मुरैना, 15 मार्च. प्रदेश के मुरैना में आईपीएस अधिकारी नरेंद्र कुमार की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या किए जाने के मामले की जांच के लिए सीबीआई ने केस दर्ज कर लिया है. सीबीआई की 6 सदस्यीय टीम मडर्र केस की जांच करेगी. जांच के लिए सीबीआई मुरैना पहुंच गई है.

गौरतलब है मध्य प्रदेश के मुरैना में आईपीएस अधिकारी नरेंद्र कुमार की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या किए जाने के मामले की जांच सीबीआई से कराए जाने की मांग की गई थी. इसको लेकर कांग्रेस के सांसदों ने सोमवार को दिल्ली में गृहमंत्री पी. चिदम्बरम से मुलाकात की और ज्ञापन सौंपा. मीडिया विभाग के अध्यक्ष मानक अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया के नेतृत्व में 15 सांसदों के एक प्रतिनिधिमंडल ने चिदम्बरम से मुलाकात की और राज्य में खनन माफियाओं की  गति विधियों का ब्योरा दिया.

प्रतिनिधिमंडल ने गृहमंत्री को बताया कि आईपीएस अधिकारी की हत्या को हादसे में बदलने की कोशिश कर रही है. इतना ही नहीं तथ्यों के उजागर होने से डरी सरकार के मंत्री मृतक के परिजनों को डरा धमका रहे हैं. गृहमंत्री को सौंपे गए ज्ञापन में राज्य में चल रहे अवैध उत्खनन का ब्योरा दिया गया है. कांग्रेस का आरोप है कि मुख्यमंत्री, मंत्री व उनके सचिव के संरक्षण में नियमों को ताक पर रखकर अवैध उत्खनन जारी है. माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं कि वे अफसरों को भी निशाना बना रहे हैं. मुरैना में तैनात आईपीएस अधिकारी नरेंद्र कुमार की हत्या इसका प्रमाण है.

Related Posts: