कई संगठनों ने सौंपा ज्ञापन

भोपाल, 13 सितंबर. राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष पी एल पुनिया मंगलवार को भोपाल के दौरे पर आए. यहां कई संगठनों ने आयोग के अध्यक्ष को अपनी मांगों से संबंधी ज्ञापन सौंपा.

मप्र राज्य सफाई कामगार आयोग के अध्यक्ष गंगाराम घोंसरे ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष पीएल पूनिया से होटल अशोका लेक व्यू में भेंट की. घोंसरे ने समस्त सफाई कामगार वर्ग की ओर से मांग की है कि आयोग की ओर से केंद्र सरकार को सुझाव दिया जाए कि केंद्र सरकार के अधीनस्थ विभाग जैसे रेलवे, दूरसंचार एवं राष्ट्रीय बैंक जिनमें सफाई के कार्य को ठेकों पर एजेंसियों को दे दिया गया है, उन्हे तत्काल रोका जाना चाहिए.

इसके लिए सफाई कामगारों की भर्ती की जानी चाहिए, जिससे सफाई कामगारों का शोषण न हो और उनके जीवन स्तर में सुधार हो सके. घोंसरे ने यह भी सुझाव दिया कि जैसे केंद्र सरकार द्वारा अल्पसंख्यक वर्ग को विशेष पैकेज दिया जा रहा है उसी तरह दलित समाज जैसे वाल्मीकि, डोम, डूमार, हेला ठेला, सुदर्शन समाजों को भी सामाजिक आर्थिक सुधार के लिए विशेष पैकेज दकर इनके जीवन स्तर को सुधारा जाना चाहिए.

अखिल भारतीय बसोर समाज विकास समिति ने बुंदेलखंड क्षेत्र में बसोर समाज पर हो रहे अत्याचार और अन्याय को रोकने के लिए समुचित कार्यवाई एवं बसोर समाज का आर्थिक, शैक्षणिक एवं सामाजिक स्थिति से भारत सरकार को अवगत कराने के लिए प्रतिवेदन सौंपा. बहुजन संघर्ष दल ने मप्र में छुआछूत आदि पर अधिकारियों द्वारा कार्यवाही न किए जाने पर ज्ञापन सौंपा. अनुसूचित जाति जनजाति छात्र संघ ने भी अपनी मांगों को लेकर प्रतिनिधि मंडल के साथ राष्ट्रीय अध्यक्ष को ज्ञापन सौंपा.

अजा कल्याण योजनाओं की समीक्षा आज
मंत्रालय में 14 सितम्बर को पूर्वान्ह 11.00 बजे मुख्य सचिव अवनि वैश्य एवं अन्य अधिकारियों के साथ राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष एवं सदस्य चर्चा करेंगे. राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष डॉ. पी.एल. पुनिया के अलावा उपाध्यक्ष राजकुमार वेरका और सदस्य एम शिवन्ना, राजू परमार एवं लथा प्रियाकुमार इस बैठक में मौजूद रहेंगे. राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के संयुक्त सचिव  टी.टीथन और चित्रा आर्मुगम भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगी.

Related Posts: