दुबई, 11 जून. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की 2012-13 के लिए अंपायरों के पैनल में एक भी भारतीय अंपायर को जगह नहीं मिली है. सोमवार को जारी सूची में पिछले हफ्ते अंपायरिंग से संन्यास लेने वाले बिली डाक्ट्रोव की जगह इंग्लैंड के निगेल लांग को शामिल किया गया है.

इसी बीच आस्ट्रेलिया के ब्रुस आक्सनफोर्ड को सितंबर में श्रीलंका में होने वाले ट्वंटी-20 विश्व कप के लिए घोषित 13 अंपायरों की टीम में रखा गया है. लांग को 12 टेस्ट, 55 वनडे और 16 टी-20 मैचों में अंपायरिंग करने का अनुभव है. उन्हें 2002 में आईसीसी की अमीरात अंतरराष्ट्रीय अंपायर में पैनल में शामिल किया गया था. इस बार उन्हें डाक्ट्रोव के संन्यास लेने के बाद पैनल में रखा गया. उन्होंने 13 जून 2005 को साउथम्प्टन में इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच टी-20 मुकाबले से अपनी अंतरराष्ट्रीय अंपायरिंग करियर की शुरुआत की. यह टी-20 मुकाबला फटाफट क्रिकेट का दूसरा अंतरराष्ट्रीय मुकाबला भी था.

बाएं हाथ के बल्लेबाज व आफ स्पिनर लांग प्रथम श्रेणी के क्रिकेटर रहे हैं और काउंटी में केंट के लिए खेला करते थे. उन्होंने 68 प्रथम श्रेणी मैचों में 3024 रन बनाए जबकि 35 विकेट भी निकाले. टी-20 विश्व कप में ओक्सेनफोर्ड के अलावा पैनल में बिली बोडेन, अलीम डार, स्टीव डेविस, कुमार धर्मसेना, मारिस एरासमस, इयान गाउल्ड, टोनी हिल, रिचर्ड केटलबार्ग, निगेल लांग, असद राउफ, साइमन टफेल और राड टकर शामिल हैं. इनके अलावा रंजन मदुगले और ज्याफ क्रो मैच रेफरी होंगे जबकि महिलाओं के मुकाबले में ग्रीम ला बूरे मैच रेफरी की भूमिका निभाएंगे.

Related Posts: