नई दिल्ली 22 दिसंबर. सचिन तेंदुलकर और सर डॉन ब्रैडमैन में कौन क्रिकेट इतिहास का सर्वकालिक महान बल्लेबाज है, यह बहस लंबे समय से चली आ रही है लेकिन ऑस्ट्रेलिया के एक आर्थिक शोधकर्ता ने इसे सुलझाने का दावा किया है.

ग्रिफिथ विश्वविद्यालय के शोधकर्ता डॉ. निकोलस रोड ने इस गुत्थी को सुलझाने के लिए बाकायदा तर्कों के आधार यह निष्कर्ष निकाला है कि भारत के सचिन ऑस्ट्रेलिया के दिवंगत ब्रैडमैन से भी बड़े खिलाड़ी हैं.   पहले मुर्गी आई या अंडा जैसे सवाल की ही तरह क्रिकेट जगत में हमेशा से यह चर्चा का विषय रहा है कि इतिहास में सचिन को महानतम क्रिकेटर का दर्जा दिया जाना चाहिए या फिर सर की उपाधि से सम्मानित ब्रैडमैन को. ब्रैडमैन का वर्ष 2001 में 92 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था. डॉ. रोड ने कहा कि आर्थिक सिद्धांतों के आधार पर किए गए आंकलन से यह साफ है कि सचिन ब्रैडमैन से आगे हैं. यह आंकलन खिलाड़ी के करियर और विभिन्न स्तरों पर उसकी उपलिब्धयों के आधार किया गया है जो उनके बीच एक तार्किक तुलना को पेश करता है. उन्होंने बताया कि 38 वर्षीय अनुभवी बल्लेबाज ने वर्ष 1989 में अपने करियर की शुरूआत से अब तक 184 टेस्ट मैचों में 56.02 के औसत से सर्वाधिक 15183 रन बनाए हैं जबकि ब्रैडमैन ने वर्ष 1928 से वर्ष 1948 तक 52 टेस्ट मैचों में 99.94 के औसत से 6996 रन बनाए.  शोधकर्ता ने दोनों खिलाडिय़ों की रैंकिंग उनके औसत रनों में से तत्कालीन औसत खिलाडिय़ों के समान पारियों में बनाए गए रनों में से घटाकर निकाली है. डॉ. रोड की सूची में शीर्ष दस में तीन भारतीय और तीन ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज शामिल हैं. इस सूची में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तानों एलेन बॉर्डर को सातवें और स्टीव वॉ को नौंवें स्थान पर रखा गया है. भारत के मध्यक्रम के दिग्गज बल्लेबाज राहुल द्रविड़ को चौथे और महान सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर को आठवें स्थान पर रखा गया है.

Related Posts: