भोपाल, 5 अक्टूबर. प्रदेश में 10 साल तक सत्ता की बागडोर संभाले रहने वाले पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के महासचिव दिग्विजय सिंह राज्य की राजनीति में नहीं लौट रहे हैं। यह खुलासा सिंह ने खुद सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर किया है। सिंह के इस ट्वीट को राय की राजनीति में लोग अलग-अलग चश्मे से देख रहे हैं।

दिग्विजय सिंह ने ट्विटर पर लिखा है, मैं राय की राजनीति में नहीं लौट रहा हूं। वहां मैं लम्बे समय तक रहा हूं,इसलिए नए नेतृत्व को कांग्रेस की बागडोर संभालनी चाहिए। यहां बता दें कि दिग्विजय सिंह 10 वर्ष तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं तथा 2003 में कांग्रेस के सत्ता से बाहर होने के बाद उन्होंने एलान किया था कि वह आगामी 10 वर्ष तक कोई चुनाव नहीं लड़ेंगे।

पिछले कुछ अरसे से दिग्विजय सिंह के मध्य प्रदेश में सक्रिय होने पर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मानक अग्रवाल का कहना है कि यह बात सही है कि दिग्विजय अपने राय की राजनीति करना नहीं चाहते, इन दिनों वह उत्तर प्रदेश के चुनाव की तैयारियों में व्यस्त हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सिंह की पूरी सक्रियता रहेगी तथा कांग्रेस को उनके मार्गदर्शन में न केवल जीत मिलेगी,बल्कि सत्ता में वापसी भी होगी। वहीं,भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा का कहना है कि सिंह राय की राजनीति में पूरी तरह अप्रासांगिक हो गए हैं। इतना ही नहीं,पार्टी में उनकी सुनी भी नहीं जा रही है। यही कारण है कि उन्होंने राय की राजनीति में न लौटने का जिक्र ट्विटर पर किया है।

Related Posts: