भाजपा कोर कमेटी की बैठक में बनी रणनीति

एक मई से केंद्र सरकार के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान

भोपाल,21 अप्रैल,नभासं. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा ने आज कहा कि केंद्र सरकार द्वारा गरीबों के खिलाफ किए जा रहे किसी भी अन्याय को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. इसके लिए पार्टी आगामी एक मई से केंद्र सरकार के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान चलाएगी.

वह प्रदेश भाजपा कार्यालय में कोर कमेटी की बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे.इस अवसर पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा, राष्ट्रीय महासचिव नरेंद्र सिंह तोमर, थावरचंद्र गहलोत सहित अन्य सदस्य प्रमुख रुप से उपस्थित थे. मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश भाजपा केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ जन जागरुकता के प्रयास करेगी वहीं वह गरीबों के साथ केंद्र सरकार द्वारा की जा रही साजिश को भी बेनकाब करेगी. बैठक के दौरान संगठन की वर्तमान गतिविधियों के अलावा जन सहयोग राशि के संग्रहण पर भी विचार किया गया. यहां प्रदेश में हो रहे नगरीय निकाय चुनावों के संदर्भ में विमर्श किया गया.

पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रभात झा ने कहा कि चौथे उपचुनाव महेश्वर में भी पार्टी पूरे दमखम से उतरेगी और विजय हासिल करेगी. कांग्रेस से यह सीट छीनकर भाजपा की झोली में लायी जायेगी. इसके लिए कोर कमेटी की बैठक में विस्तार से चर्चा हुई है और रणनीति बनायी गयी है. कोर ग्रुप की बैठक में महेश्वर के आसन्न उपचुनाव के अलावा प्रदेश में अनुसूचित क्षेत्रों में होने जा रहे 52 नगरपालिका और नगरपंचायतों के चुनाव में पार्टी के विजय हासिल करने के बारे में चर्चा हुई और व्यूह रचना की गयी. इन 52 नगरीय निकायों में से 25 इंदौर संभाग में है. 1 उज्जैन संभाग और शेष 26 छिंदवाडा, शहडोल, मंडला, डिंडोरी, बैतूल, सिवनी, बालाघाट, अनुपपुर और उमरिया जिले में है. यह सभी नगरीय निकायों के चुनाव 16 जिलों में होंगे, इन जिलों में प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश संगठन महामंत्री अरविन्द मेनन के सघन दौरे हो चुके है. मतदान केन्द्र तक पार्टी संपर्क कर चुकी है, तथापि चुनाव में सुनिष्चित विजय हासिल करने के लिये बैठक में प्रत्येक नगरपालिका और नगर पंचायत के चुनाव की पदाधिकारियों, वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी सौंपने का निष्चय किया गया है. पदाधिकारी निकाय के अलावा वार्ड तक की जिम्मेदारी संभालेंगे. उन्होंने कहा कि इसी दरम्यान पार्टी चुनाव सहयोग कोष के लिए 100, 500 और 1000 रू. का अंशदान जनता से प्राप्त करेगी. चुनाव जनसहयोग निधि संग्रह के लिये प्रदेष के पदाधिकारी, वरिष्ठ नेता जनता के बीच जायेंगे. मुख्यमंत्री और मंत्री भी जनसहयोग निधि के लिये जनता से आग्रह करेंगे.

Related Posts: