विधायक से मिला पूज्य सिंधी पंचायत का प्रतिनिधि मंडल

बैरागढ़,30 जुलाई (संवाददाता) संत हिरदाराम नगर में कुछ दिन पूर्व पूज्य सिंधी पंचायत, वार्ड 2 व 3 की पार्षद के साथ क्षेत्रीय विधायक जितेन्द्र डागा ने नगर निगम अधिकारियो के साथ क्षेत्र का दौरा किया था जहां नाला नालियो व सार्वजनिक स्थानो पर हो रहे अतिक्रमण पर अधिकारियों को लतार लगाई थी.

उन्होने साफ शब्दो में अधिकारियो को निर्देशित किया था कि वे ऐसे अधिकारियो का सर्वे कराए जहां बिल्डिंग परमिशन शाखा के बगैर निर्माण किया है. उनके साथ वार्ड 4 व 3 की पार्षद श्रीमती ईश्वरी नाथानी, श्रीमती संध्या प्रधान, जोन अधिकारी मैना, अतिक्रमण अधिकारी मेघानी सहित पूज्य सिंधी पचंायत के अध्यक्ष व कई भाजपा कार्यकर्ता उनके दौरे के साथ थे. लेकिन कुछ दिन पूर्व नगर निगम के भवन अनुज्ञा शाखा द्वारा करीब 50 लोगो को नोटिस जारी किये है. जिसके चलते वार्ड 3 व 4 के उन रहवासियो में हडकम्प मच गया है जिन लोगो ने नगर निगम के बगैर भवन निर्माण कार्य किये है और नाला नालियो को पूरी तरह से ढाक दिया है इस वजह से न तो नगर निगम के सफाई कामगार साफ सफाई कर पाते है न ही क्षेत्र का गंदा पानी आसानी से नालियों में पहुंच पाता है.

इसके चलते बरसात के इन दिनो में लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड रहा है. उधर पूज्य सिंधी पंचायत के प्रतिनिधिमण्डल सोमवार को विधायक पर उनके निवास पर मिला और उन्होने विधायक से आग्रह किया कि विकास एवं जर्जर सडको की मरम्मत की जाए. विधायक ने उन्हे आश्वासन दिया कि वे इस संबंध में तभी कार्यवाही आगे बढाएगे जब नाला नालियो पर अतिक्रमण किया उसे हटाया नहीं जा सकता तब तक यह संभव नहीं है. उन्होने प्रतिनिधिमण्डल को यह बताया कि अतिक्रमण के कारण विकास एवं साफ सफाई में बांधा उत्पन्न हो रही है.

इसके बाद ही विकास संभव है. अगर आप अतिक्रमण हटाने के पक्ष में नहीं है तो दोबारा इस पर चर्चा नहीं करेगें. पंचायत के लोगो ने बरसात तक कोई अतिक्रमण नहीं हटाने के लिए उनसे आग्रह किया लेकिन इस पर विधायक राजी नहीं हुए. उनका कहना था कि अगर अभी अतिक्रमण नहीं हटाया गया तो फिर कभी नहीं हटाया जा सकता अगर आप लोग नगर के विकास मे सहयोग नहीं करते तो वे भी इस संबंध में कभी चर्चा नहीं करेगे. उल्लेखनीय है कि समूचे बैरागढ क्षेत्र में जहां पूर्व में 20 फीट चौडी सडके थी वे अतिक्रमण के कारण 10 फिट ही सुखड के रह गई है

बाकी की शासकीय भूमि पर लोगो ने कब्जा कर लिया हैं जहा खास तौर पर पंजाब नेशनल मार्ग, चंचल मार्ग, इलाहाबाद बैंक रोड, आरा मशीन रोड, गिदवानी पार्क क्षेत्र, सीआरपी क्षेत्र इन सडको के हालात ये है की अगर आगजनी की घटना हो जाए नगर निगम के धमकल भी समय पर नहीं पहुंच पाते लोगो ने सार्वजनिक स्थानो पर अतिक्रमण कर रखा है कई मकान तो ऐसे बने है जहा नगर निगम की अनुमति ली गई है न ही बिल्डिंग परमिशन की अनुमति उनके पास है. इसके बाद भी मकान बेखुबी बनकर तैयार हो गये है यह सब नगर निगम की मिलीभगत से हुआ है. हालांकि इन अतिक्रमण के मामले में विधायक को क्षेत्रीय पार्षदो ने भी अपना सहयोग दिया था कि वे क्षेत्र के विकास में उनके साथ है.

जबकि विधायक के दोरे के समय पूज्य सिंधी पंचायत ने उनका विकास में सहयोग देने की अपील की थी लेकिन अब यह बात सामने आ रही है पूज्य सिंधी पंचायत भी अतिक्रमण के मामले में अपने हाथ खडे करना चाहती है और वह इस संबंध में लोगो से किसी भी तरह की बुराई नहीं लेना चाहती है ऐसा सूत्रो से ज्ञात हुआ है. उधर बिल्डिंग परमिशन शाखा द्वारा जो नोटिस जारी हुए है उससे भी हडकम्प मचा हुआ है. विधायक से मिलने वालो में पूज्य सिंधी पंचायत अध्यक्ष साबूमल रीझवाणी, माधु चांदवानी, पूर्व पार्षद राजेश, परसराम आसनानी, थोक वस्त्र व्यवसाय संघ अध्यक्ष, मामा गोविन्दराम आदि प्रमुख लोग मिले.

Related Posts: