इन्दौर में हमला बोला सुब्रमण्यम स्वामी ने

इन्दौर, 25 सितंबर. 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में अन्य लोगों के साथ सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा भी शामिल हैं. उनकी भूमिका सिद्ध करने के लिए हमारे पास पर्याप्त सबूत हैं.

उक्त आरोप आज इन्दौर में पत्रकारों से चर्चा करते हुए जनता पार्टी के अध्यक्ष सुब्रह्मïण्यम स्वामी ने लगाए. उन्होंने कहा 2जी स्पेक्ट्रम घोटाले में राजा ने वही किया जो उन्हें चिदंबरम ने करने को कहा. विडंबना है राजा सींखचों के अंदर हैं और चिदंबरम सत्ता सुख ले रहे हैं. यदि घोटाले का जड़ से खुलासा नहीं हुआ तो भारत की अर्थव्यवस्था गर्त में पहुंच जाएगी, जिसे भगवान भी नहीं बचा पाएगा. स्वामी ने मनमोहन सिंह को बेहद कमजोर प्रधानमंत्री निरुपित किया व उन्हें धृतराष्ट व भीष्म पितामह की संज्ञा देते हुए कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री बनाया ही इसलिए ताकि वे शक्तिहीन बने रहें.

उन्होंने कहा स्पेक्ट्रम घोटाले की शुरुआत लाइसेंस बांटने से हुई थी. इसमें ‘पहले आओ, पहले पाओ की बंदरबांट में जिन दो स्वान व यूनिट एक्ट कंपनियों को लाइसेंस दिए गए, उनका अपना टॉवर तक नहीं था. उन्होंने चिदंबरम पर बेनामी जमीनें खरीदने और स्टॉक मार्केट की गड़बडिय़ों समेत धांधलियों के आरोप भी लगाए. ये दोनों जमीन के व्यापार में लगी थीं और इन्होंने ये लाइसेंस ऊंची कीमत पर एडी स्लॉट, जो आईएसआई की एजेंट है तथा नार्वे की कंपनी टेलीनार्थ, जिसका चीन से व्यापार होता है, को बेच दिए.  इसकी आड़ में चीन संचार व्यवस्था में सेंधमारी कर रहा है, खासकर दूरसंचार व कम्प्यूटर के क्षेत्र में.
चिदंबरम जैसे लोगों की सही जगह दिल्ली की तिहाड़ जेल है. जहां उनके मौसेरे भाई बंद हैं.

Related Posts: