नव निर्वाचित पदाधिकारियों की बैठक संपन्न

भोपाल, 2 मई.  देश के अन्य राज्यों के विश्व विद्यालयों की तुलना में म.प्र. के विश्व विद्यालयों की शैक्षणिक साख कम है. इससे यहां के विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर पर नियुक्तियों में पर्याप्त अवसर नहीं मिल पाते.

भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) प्रदेश के विश्व विद्यालयों की साख को बेहतर बनाने के लिए पहल करेगा. इसके लिए विश्व विद्यालयों और कालेजों की शैक्षणिक स्थिति का जिलेवार अध्ययन किया जाएगा और उसके निष्कर्षों के आधार पर यहां के विश्व विद्यालयों को अन्य प्रदेशों में मान्यता और सम्मान दिलवाने के प्रयास होंगे. ये विचार आज प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन की नव निर्वाचित कार्यकारिणी के सदस्यों और जिलाध्यक्षों के शपथ ग्रहण समारोह में अ.भा. कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव एवं म.प्र. में एनएसयूआई के प्रभारी अखिलेश यादव ने व्यक्त किये. इस अवसर पर नव निर्वाचित पदाधिकारियों की प्रथम बैठक भी हुई.

Related Posts: