वाशिगटन, 6 जनवरी. अमेरिका के एक सासद ने कहा है कि सीआईए और रक्षा विभाग इस बात की जाच कर रहे हैं कि क्या अमेरिकी हमले में मारे गए आतंकी सरगना ओसामा बिन लादेन से संबंधित अभियान की गोपनीय जानकारी हॉलीवुड के एक फिल्म निर्माता को लीक की गई थी।

सीआईए और रक्षा विभाग ने जाच का यह फैसला रिपब्लिकन काग्रेस सदस्य पीटर किंग की मांग पर किया जो गृह सुरक्षा समिति के अध्यक्ष हैं। किंग ने सीआईए और रक्षा विभाग द्वारा खुद को लिखे गए पत्रों की प्रति जारी करते हुए एक बयान में कहा कि लादेन को मार गिराने वाले सफल अभियान के बाद सूचनाएं लीक होने से पाकिस्तानियों की गिरफ्तारी हुई और मिशन के नायकों तथा उनके परिवारों की जिंदगी खतरे में पड़ गई। उन्होंने बताया कि उन्हें 23 दिसंबर को रक्षा विभाग के इंस्पेक्टर जनरल का पत्र मिला। इसमें जानकारी दी गई कि प्रारंभिक समीक्षा के बाद खुफिया और विशेष आकलन कार्यक्रमों से जुड़े अधिकारियों ने कहा कि फिल्म निर्माताओं को सूचना जारी करने से संबंधित कर्मियों के खिलाफ रक्षा विभाग द्वारा की गई कार्रवाई को लेकर औपचारिक जाच शुरू कर दी है।

सीआईए ने एक अन्य पत्र में कहा कि फिलहाल वह एक लिखित नीति तैयार कर रही है जिसमें भविष्य में उद्योग जगत से बात करने संबंधी मानक होंगे। पिछले साल अगस्त में किंग ने रक्षा विभाग और सीआईए के इंस्पेक्टर जनरलों से इन खबरों के सिलसिले में जाच करने को कहा था कि ओबामा प्रशासन ने सोनी पिक्चर्स और फिल्म निर्माता कैथरीन बिजेलो को ओसामा मिशन पर एक फिल्म के निर्माण के लिए उच्च स्तरीय पहुंच की इजाजत दी है। किंग ने बयान में कहा कि खबरें थीं कि नवंबर 2012 के राष्ट्रपति चुनाव से ठीक एक महीने पहले अक्टूबर 2012 में यह फिल्म रिलीज होगी। अमेरिकी कमाडो टीम ने पिछले साल दो मई को पाकिस्तान के ऐबटाबाद में अचानक धावा बोलकर अलकायदा सरगना ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था।

Related Posts: