नई दिल्ली, वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने सोमवार को साफ संकेत दिया कि बजट सत्र के बाद पेट्र्रोल-डीजल और एलपीजी गैस के दामों में बढोतरी की जाएगी.

वित्त मंत्री ने आज संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि संसद का बजट सत्र पूरा होने के बाद मैं विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों और राजनीतिक पार्टियों के नेताओं से बातचीत करूंगा. तेल कंपनियों की 31 मार्च को समीक्षा बैठक होनी है. तेल कंपनियां तो पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के बाद ही कीमतें बढ़ाना चाहती थी, लेकिन पेट्रोलियम मंत्री जयपाल रेड्डी ने 31 मार्च तक दाम नहीं बढ़ाने की बात कही है. तेल कंपनियों का तर्क है कि  पेट्रोल पर 6 रूपए प्रति लीटर का घाटा हो रहा है. आम बजट में वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी डीजल पर सब्सिडी खत्म करने की बात कह चुके हैं. प्रधानमंत्री ने भी सब्सिडी कम करने की बात कही थी.

Related Posts: