भाजपा के राज मे नहीं रहीं गौ माता सुरक्षित

कोतमा 30 अक्टूबर नससे.  मघ्य प्रदेश मे पिछले कई वर्षो से भारतीय जनता पार्टी की सरकार राज कर रही है जिसमे पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती सत्ता मे आने के लिये प्रदेश के हर चौराहे पर गौ-माता की रक्षा के लिये दोनो हाथो का उठवा कर सकंल्प करवाती थी कि भोजन के पूर्व हर व्यक्ति  दो रोटी गौ-माता के लिये निकाल कर ही भोजन ग्रहण करे, वही प्रदेश के मुखिया शिवराज सिह चौहान के राज मे गौ-माता की रक्षा के लिये कठोर कानून बनाया है जोकि कागजो मे ही सीमित होकर रह गया ।

कारण भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख पदो मे बैठे पदाधिकारी पशु तस्कर के अपराधियो को खुला संरक्षण देकर गौ-माता की खुले आम कत्ल का मामला सामने आया है घटना के संबंध मे बताया जाता है कि कोयलांचल क्षेत्र मे पिछले कई वर्षो सें पशु तस्करो ने ट्रको मे सवार कर अवैध रुप से परिवहन करते है जिन्हे कई बार समाजसेवी संगठनो द्वारा पकड कर थाने लाया गया लेकिन सत्ता पक्ष के नेताओ के दवाब मे बिना कार्यवाही के ही लम्बी राशि लेकर छोड दिया गया ऐसा ही एक और मामला रविवार 30 अक्टूबर की दोपहर लगभग 1 बजे कोतमा-केशवाही रोड से चोरी छुपे ट्रक क्र. यूपी.78 ए.टी. 6859 जिसमे 22 नग बछडे लादकर उत्तरप्रदेश के महोबा से लगभग 30 थानो को पार कर लाया जा रहा था कि पिपारिया गाव के तिराहे पर बुढानपुर निवासी मानसिंह अपने साथियो सहित मवेशियो से भरे ट्रक को रोक लिया और घटना की सूचना थाना कोतमा को दी लेकिन इसी बीच भाजपा के बडे पदो मे असीन पदाघिकारियो एंव बाजार मवेशी ठेकेदार राजू,लाला के फोन करते ही मानसिंह दवाब मे आकर वाहन को अपने ठीहे तक जाने दिया । ज्ञात रहे कि पशु परिवहन के लिये एक ट्रक मे अधिकतम 7 मवेशी ही ढोये जा सकते है लेकिन यहा 22-22 मवेशी बेरोक-टोक पुलिस की शह पर अवैध रुप से पशु परिवहन जारी है।

Related Posts: