महिलाओं को मिलेगा 33 फीसदी स्थान

भोपाल,28 सितंबर.  मध्यप्रदेश कांग्रेस समिति में इस बार पदाधिकारियों का चयन इस प्रकार से किया जा रहा है कि कम से कम महामंत्री के पद पर समाज के हर वर्ग व जाति का प्रतिनिधित्व हो जाए.उम्मीद जताई जा रही है कि समिति में 15 महामंत्री रखे जाएंगे जिससे कि सभी जातियों को काम का मौका मिल सकेगा.

पार्टी ने भाजपा की चुनौती क ा ख्याल करते हुए राज्य की सभी 63 जिला समितियों में से चयन इस सावधानी से करने का निश्चय किया है कि ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को समिति में जगह मिल जाए. पार्टी इस बार राज्य में भाजपा के बेटी बचाओ अभियान के चलते हर हाल में 33 फीसदी स्थान महिलाओं के लिए आरक्षित कर रही है.

समिति को बड़ा रखने बढ़ा दबाव
हाल में अन्य प्रान्तों के लिए बनी समितियों की तरह प्रदेश समिति को छोटा रखने क ी मंशा सामने आने के बाद प्रदेश के चारों बड़े नेता भाजपा का मुकाबला करने समिति को बड़ा रखने का तर्क देने लगे हैं.सूत्रों ने कहा कि इस मामले में अब चारों नेताओं के बीच सहमति बन रही है.उक्त सभी ने प्रभारी महासचिव बी के हरिप्रसाद से गुहार लगाई है कि राज्य में लगातार दो बार भाजपा के सरकार में आने से प्रदेश के नेताओं के पास संगठन में काम के विकल्प के अलावा अन्य रास्ता नहीं है लिहाजा उन्हें बड़ी संख्या में काम करने का मौका मिलना चाहिए.

Related Posts: