गर्भावस्था के नौ माह के दौरान कौन-कौन सी बातों का ध्यान आपके लिए फायदेमंद और उपयोगी हो सकता है, यह एक अहम जानकारी है। अपनी सेहत के साथ-साथ आपको अपनी त्वचा की सेहत का भी ध्यान रखना होगा।

आज हम आपको दे रहे हैं ऐसे 7 टिप्स, जिन्हें अपनाने से गर्भावस्था के दौरान आप अपनी त्वचा की सेहत के प्रति चिंतामुक्त हो जाएंगी:

  • खूब पानी पिएं:  यह आपके और आने वाले बच्चे, दोनों के लिए बहुत जरूरी है। इसलिए कम से कम 2 लीटर पानी रोज पिएं। इससे स्ट्रेच मार्क्स और कब्ज दूर होगी और त्वचा में भी निखार आएगा।
  • हरी सब्जियां खाएं: खूब सारी हरी पत्तेदार सब्जियां खाएं। मीट और जंक फूड से परहेज करें। थोड़े-थोड़े अंतराल पर खाएं। एक साथ ज्यादा खाना न खाएं। इससे आपको बेचैनी नहीं होगी और कब्ज की वजह से होने वाली जलन भी कम होगी.
  • व्यायाम अवश्य करें: गर्भावस्था में व्यायाम बहुत आवश्यक होता है। इस समय में रक्तचाप को नियंत्रित करना बेहद जरूरी होता है, जिसे आप नियमित तौर पर वॉक करके काबू में रख सकती हैं। आप एक्सरसाइज बाइक को घर में रख सकती हैं। टीवी देखते हुए इस पर कुछ देर व्यायाम करेंगी तो यह बच्चे के लिए भी अच्छा रहेगा।
  • बॉडी स्टीम: बॉडी को स्टीम दें। इससे आप रिलैक्स महसूस करेंगी, साथ ही तनाव भी कम होगा। बेहतर है कि आप गुलाब को गर्म पानी में डालें। इससे स्टीम बॉथ लें। इससे त्वचा में चमक और उसमें कसाव आएगा।
  • स्ट्रेच मार्क्स पर ध्यान न दें: जैसे-जैसे पेट का आकार बढ़ता है, उस पर स्ट्रेच लाइंस आती ही हैं। इस बात को स्वीकार करें और इन लाइंस पर अधिक ध्यान न दें। संपूर्ण आहार और विटामिन ई युक्त मॉइस्चराइजिंग लोशन या तेल लगाकर आप इन्हें कम कर सकती हैं। प्रतिदिन स्नान के बाद इस लोशन को लगाएं, क्योंकि इस समय त्वचा तेजी से नमी सोख सकती है।
  • त्वचा का खास ख्याल रखें: नौ महीनों के दौरान त्वचा और बालों का विशेष ख्याल रखें। एक चम्मच दही और बादाम तेल की कुछ बूंदों को मिलाएं। इसमें थोड़ा गुलाब जल डालें। इसे त्वचा पर मलें और कुछ देर सूखने के बाद धो दें। इससे त्वचा कोमल होती है। ।
  • सन्स्क्रीन का प्रयोग: गर्भावस्था के दौरान त्वचा का काला पडऩा एक आम समस्या है। आपके चेहरे की रंगत फीकी पड़ सकती है, साथ ही पेट के आसपास के हिस्से में भी कालापन बढऩे लगता है। इस पर नियंत्रण रखने के लिए आप सन्स्क्रीन लोशन और स्क्रब लगा सकती हैं।

 

Related Posts: