तीन युवकों ने किया हमला, चारों ओर निंदा

नई दिल्ली, 12 अक्टूबर. टीम अन्ना के सदस्य प्रशांत भूषण पर आज एक युवक ने सुप्रीम कोर्ट के सामने मौजूद उनके चैंबर में ही हमला कर दिया। हमला करने वाले युवक ने प्रशांत भूषण की पिटाई कर दी। हमलावर का दावा है कि उसने कश्मीर पर प्रशांत भूषण के विवादास्पद बयान के चलते उनकी पिटाई की।

हमला करने वाले युवकों के नाम तेजेंद्र पाल सिंह बग्गा, विष्णु गुप्ता और इंद्र वर्मा हैं। इनमें से इंद्र वर्मा ने खुद को श्रीराम सेना का प्रदेश अध्यक्ष बताया है। वहीं, बग्गा ने बताया कि वह भगत सिंह क्रांति सेना नाम के संगठन का अध्यक्ष है और वह विष्णु गुप्ता के साथ भागने में कामयाब रहा है। पुलिस के हाथ सिर्फ इंद्र वर्मा नाम का युवक आया है। प्रशांत भूषण की पिटाई से पहले युवकों ने पर्चे भी बांटे जिसमें लिखा है, तुम कश्मीर तोड़ोगे, हम तुम्हारा सिर तोड़ देंगे। हमलावर युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पिटाई के बाद प्रशांत भूषण ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कुछ दिनों पहले वाराणसी में उन्होंने कश्मीर में जनमत संग्रह कराए जाने के सवाल पर कहा था कि वहां भी जनमत संग्रह कराया जा सकता है। हमले के बाद प्रशांत को दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाया गया। वहां उनकी जांच की गई। जांच के बाद प्रशांत भूषण को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई । पुलिस ने अस्पताल में ही प्रशांत का बयान दर्ज किया। प्रशांत के साथ मनीष सिसोदिया और अरविंद केजरीवाल मौजूद रहे।

मुझ पर श्रीराम सेना ने हमला किया: प्रशांत भूषण
हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद प्रशांत भूषण ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने ऊपर हुए हमले के लिए श्रीराम सेना को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि उन पर तीन लोगों ने हमला किया। इसमें एक युवक अपना नाम इंद्रवीर बता रहा था। यह युवक खुद को श्रीराम सेना का प्रदेश अध्यक्ष बता रहा था।  श्रीराम सेना वही संस्था है, जो जगह-जगह इस तरह की हरकत करती है।

 

प्रशांत बहादुर हैं, डटे रहेंगे: शांति भूषण
प्रशांत के पिता शांतिभूषण ने कहा कि यह हमला निंदनीय है। लेकिन अगर कुछ लोग ऐसा समझते हैं कि ऐसे हमलों से उसका आत्मविश्वास डिग जाएगा, तो वे गलत सोच रहे हैं। प्रशांत आगे भी समाज की बेहतरी के लिए काम करते रहेंगे।

कायरतापूर्ण हमला: सिंघवी
कांग्रेस ने प्रशांत भूषण पर हुए हमले की निंदा करते हुए इसे कायरता भरा कदम बताया है। पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। लेकिन अगर ऐसा हुआ है तो पार्टी इसकी आलोचना करती है।

मामले की जांच जारी
प्रशांत भूषण पर हमले के मामले में केंद्रीय गृह सचिव आरके सिंह ने कहा है कि इस घटना की जांच की जा रही है।

बीजेपी ने उठाए सवाल
बीजेपी ने प्रशांत भूषण पर हुए हमले के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताया है। बीजेपी के प्रवक्ता बलबीर पुंज ने कहा है कि वह इस हमले की निंदा करते हैं।  पुलिस पता लगाए कि ये हमलावर कौन हैं और इनके पीछे कौन लोग काम कर रहे हैं।

किसी को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं
अन्ना हज़ारे ने घटना की निंदा करते हुए कहा मैं इस घटना की पुरजोर निंदा करता हूं. किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा कि वह भूषण से बात करेंगे और हमले के पीछे के कारण का पता लगाएंगे. वह (भूषण) हमारी टीम के सदस्य हैं. मैं उनसे इस घटना के पीछे के कारण के बारे में जानूंगा. विवरण मिलने के बाद हम तय करेंगे कि क्या करना है.

हम कितने असहिष्णु हो गए हैं
किरण बेदी ने हमले की तीखी आलोचना करते हुए कहा प्रशांत भूषण समाज के लिए काफी कुछ कर रहे हैं। वे बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। ऐसे में उन पर हमला करना समझ से परे है। यह हमला बताता है कि हम एक व्यक्ति या समाज के तौर पर कितने असहिष्णु हो गए हैं।

Related Posts: