• वेतन भत्ते संबंधी समिति की बैठक आज

भोपाल,22 नवम्बर.नभासं. राज्य की 13वीं विधानसभा के सदस्यों के वेतन और भत्तों में एक बार फि र बढ़ोत्तरी होने जा रही है. माननीयों के वेतन भत्तों को बढ़ाने को लेकर  विधानसभा के सदस्यों के वेतन भत्ते संबंधी समिति की बैठक बुधवार को विधानसभा स्थित विधानसभा के उपाध्यक्ष और समिति के सभापति हरवंश सिंह के कक्ष में होने जा रही है.

यह बैठक विधानसभा की कार्यवाही संपन्न होने के बाद होगी. गौरतलब है प्रदेश के विधायकों के वेतन भत्तों से संबंधित 3 अक्टूबर 2007 को संशोधन कर वेतन 9 हजार निर्वाचन क्षेत्र भत्ता 12 हजार, दूरभाष 7 हजार, चिकित्सा 3 हजार, अर्दली 2 हजार, लेखन सामग्री एवं डाक भत्ता 2 हजारए बस यात्रा भत्ता  पेंशन 6 हजार चिकित्सा भत्ता 3 हजार रूपये कुल 44 हजार रूपये निर्धारित किया गया था. माननीयों के वेतन भत्तों में वृद्धि का संशोधन 27 अप्रैल 2010 को पुन: हुआ. इस संशोधन के अनुसार वेतन 10 हजार निर्वाचन क्षेत्र भत्ता 16 हजार दूरभाष 10 हजार चिकित्सा 5 हजार,अर्दली 5 हजार, लेखन सामग्री एवं डाक भत्ता 4 हजार, बस यात्रा 250 रूपये पेंशन 7 हजार चिकित्सा भत्ता 5 हजार रूपये कुल 62250 रूपये निर्धारित किया गया है. इसके अलावा माननीयों के परिवार पेंशन की राशि भी तीन हजार से बढ़ाकर पांच हजार कर दी है.

उल्लेखनीय है कि लगभग डेढ़ साल के भीतर राज्य के माननीयों के वेतन भत्ते एक बार फिर बढऩे जा रहे है. मप्र के माननीय की इच्छा है कि तमिलनाडु बिहार हरियाणा और दिल्ली राज्यों के विधायकों की भांति वेतन और भत्ते मिले. बताया जाता है कि माननीयों को इन राज्यों के वेतन भत्तों के समान वेतन भत्तों में वृद्धि न होए लेकिन इन राज्यों की तुलना में प्रदेश के विधायकों के वेतन भत्तों की राशि लगभग 60 प्रतिशत बढ़ सकती है. समिति की बैठक में विधायकों के वेतन भत्तों में वृद्धि करने के फैसले का चालू विधानसभा के सत्र में औपचारिक अनुमोदन प्राप्त किया जायेगा. उल्लेखनीय है कि प्रदेश के कुछ विधायकों ने तो प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व विधानसभाध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी से वेतन भत्ते बढ़ाये जाने की बात कई मर्तबा की है. सदस्यों के वेतन भत्ते संबंधी समिति से जुड़े अधिकारियों ने माननीयों के वेतन भत्ते बढ़ाये जाने को लेकर तमिलनाडु, बिहार, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान,पंजाब, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश राज्य के विधायकों को मिल रहे वेतन भत्तों का अध्ययन कर लिया है. गौरतलब है कि त्रयोदश विधानसभा में भारतीय जनता पार्टी के 147 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी 66 बहुजन समाज पार्टी 5भारतीय जन शक्ति के 5 समाजवादी पार्टी 1 और 3 निर्दलीय सदस्य है. एक सीट महेश्वर रिक्त है. कुल सदस्यों की संख्या 231 है. एक नाम निर्दिष्ट है.

Related Posts: