कोलकाता, 1 अप्रैल. वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी ने कहा है कि देश में नोटों और सिक्कों का उत्पादन किस तरह बढ़ाया जाए, इसके उपाय सुझाने के लिए एक विशेषज्ञ समिति गठित की जा रही है।

कोलकाता के अलीपुर में एक कार्यक्रम में शिरकत कर रहे प्रणब ने कहा कि रिजर्व बैंक देश में सिक्कों का उत्पादन (6.2 अरब सिक्के प्रति साल से) बढ़ाकर दोगुना करना चाहता है। आतंकवाद की तरह ही नकली मुद्रा के रैकेट भी देश को अस्थिर करना चाहते हैं। नकली नोटों से लोगों का मुद्रा में भरोसा घह्यट जाता है, जिससे अर्थव्यवस्था पर असर पड़ता है। नकली नोटों की रोकथाम के लिए कई उपाय किए गए हैं। इस दिशा में हमें कुछ हद तक कामयाबी भी मिली है। प्रणब ने यह भी कहा कि नोटों की छपाई के मामले में पिछले कुछ सालों में भारत की दूसरे मुल्कों पर निर्भरता घटी है। नोटों की छपाई में इस्तेमाल होने वाला कागज अब हम मैसूर और होशंगाबाद स्थित फैक्टरी में बना रहे हैं। छपाई में इस्तेमाल होने वाली स्याही भी हम बनाएंगे।

Related Posts: