उड़द की कटाई में व्यवधान, मौसम में ठंडक

विदिशा,25 सितंबर (का.प्र.) मंगलवार की दोपहर से शाम तक रूक-रूक कर हुई तेज बौछारों से निचली बस्तियों में पानी भर गया और मौसम में ठंडक घुल गई. वहीं फसल कटाई में व्यवधान पड़ गया.

दोपहर से शाम तक करीब तीन पारियों में आज बादलों की गर्जना के साथ जोरदार वर्षा हुई, जिससे शहर तरबत्तर हो गया और मौसम में ठंडक छा गई. अचानक हुई वर्षा के पूर्व दोपहर तक मौसम साफ रहा इस कारण बगैर छाते बरसाती के घर से बाहर निकले कामकाजी और अन्य लोग अचानक आई तेज बौछारों से बचाव नहीं कर पाए. यहां-वहां दुबक गए. कई लोग पानी मे भीगे. इस बीच सड़कों पर पानी भरने से कुछ देर यातायात भी प्रभावित हुआ.

जोरदार वर्षा के चलते मंदिरोंं आदि के परिसरों में चल रहे धार्मिक कार्यों में अव्यवस्था फैल गई और भक्तजन इधर उधर शरण लेते देखे गए. वहीं अनेक परिसरों में लगी गणेश झांकियों की सजावट में समस्या उत्पन्न हो गई. इस कारण झांकीसमितियों के कार्यकर्ताओं को प्रतिमा की सजावट और विद्युत, साउंड सिस्टम को व्यवस्थित करने में अड़चन आई. वहीं धूप दशमी के दिन मंदिर दर्शन के लिए निकले जैन श्रद्धालुओं को भी कुछ असुविधा हुई.

इन दिनों जिले में अनेक क्षेत्रों में उड़द की फसल की कटाई चल रही है, तेज वर्षा से उसमें व्यवधान उत्पन्न हो गया. कई जगह कटैयों द्वारा काटी गई फसल खेतों अथवा खलिहानों में पड़ी है जिसे इस वर्षा से नुकसान हुआ. पानी के कारण फसल दागी भी हो सकती है. साथ ही इसके सूखने में समय लगेगा. वहीं खेतों में पानी भरने से हार्वेस्टरों का जाना और उनके द्वारा कटाई कुछ दिन बाद हो पाएगी.

Related Posts:

"देवआनन्द को श्रद्घांजलि" राज्यपाल, मुख्यमंत्री ने व्यक्त की शोक संवे...
कम से कम दस्तावेज पर कनेक्शन मिलें
मोदी सरकार वादे पूरे करने में बुरी तरह नाकाम: सोनिया
मैनपुरी में हिंसात्मक वारदातों में दो मरे चार घायल तीन
कांग्रेस नेताओं से मिले जेटली, गतिरोध दूर होने के आसार नहीं
मध्यप्रदेश में दिख रही है अराजकता : सिंधिया