बैरागढ़ 9 मई, नभासं. राजधानी के करीब आधे दर्जन से अधिक ग्रामीण क्षेत्र के दूरभाष केन्द्र पिछले पच्चीस दिनो से अधिक समय से बंद पडे हुए है इस वजह से ग्रामीण क्षेत्र की संचार व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है इस वजह से ग्रामीणो को काफी परेशानी का सामना करना पड रहा हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले माह 13 अप्रैल को स्टेट बैंक चौराहा स्थित सिटी टेलीफोन एक्सचेंज में आग लग जाने की वजह से ग्रामीण क्षेत्र के आधा दर्जन दूरभाष केन्द्र बंद पडे हुए है इस वजह से ग्रामीणो को संचार व्यवस्था की वजह से परेशानी उठाना पड रही है। जिन क्षेत्रो के टेलीफोन केंद्र बंद पडे हुए है उनमे परवलिया सडक, लाम्बाखेडा, रातीबढ, खजूरी सडक, भौंरी, तूमडा, फंदा, इन क्षेत्रो की संचार व्यवस्था पूरी तरह बंद पडी हुई है। अगर ग्रामीणो को टेलीफोन के जरिए अगर कही बात करना होती है तो उन्हे निराशा ही हाथ लग रही है इसका मुख्य कारण टेलीफोन केंद्र बंद होने की वजह से हो रहा है अधिकारियो का कहना है कि जल्द ही इन क्षेत्रो के दूरभाष केंद्रो का चालू कर दिया जाएगा ओर संचार व्यवस्था पुन: प्रारंभ हो जाएगी। आधा दर्जन टेलीफोन केंद्र बंद होने से परवलिया सडक, टेलीफोन केंद्र के अंतर्गतन जिन गांवो के टेलीफोन बंद है उनमे से कुराना, मुबारकपुर, शांतिनगर, तारा सेवनियां, बगोनिया, मुगालियां हाट, झिरनिया, कलाखेडी, पुरा छिंदवाडा जब कि दूरभाष केंद्र के अंतर्गत ग्राम खेजडादेव, ईटखेडी, इस्लामनगर, अरवलिया, और फंदा, तूमडा, एक्सचेंज के अंतर्गत कई गांवो के टेलीफोन बंद है इस वजह से उन्हे कई परेशानी का सामना करना पड रहा है हालांकि सिटी टेलीफोन एक्सचेंज में नई मशीने लगाने का कार्य इन दिनों जोर शोर से चल रहा है और जल्द ही ग्राम क्षेत्र की संचार व्यवस्था पुन: शुरु हो सकेगी। लेकिन ग्रामीण उपभोक्ताओं का कहना है कि एक महीना होने को है. इसके बाद भी ग्रामीण क्षेत्र के टेलीफोन केन्द्र के अंतर्गत संचार व्यवस्था सुचारु रुप से शुरु हो नहीं सकी है इस वजह से उन्हे कई जरुरी कार्य के लिए परेशानी का सामना करना पड रहा है एवं अपने मोबाईल का सहारा लेकर जरुरी कार्य के लिए टेलीफोन पर बात करना मजबूरी हो गई है.

Related Posts: