सिंगरौली 6 मई . जिले के बरगवॉ थाना अंतर्गत चिनगी टोला गांव में बीहड़ वादियों के बीच संचालित एक अवैध कोयले की खदान धसकने से छ:लोगों की मौत हो गयी जबकि अन्य दो को प्रशासनिक मदद से सुरक्षित बाहर निकाला गया है. घटना की जानकारी मिलने पर  स्थल पर पहुंचे जिले के एस पी एवं कलेक्टर ने त्वरित सहायता के रूप में मृत एवं घायल व्यक्तियों को पांच- पांच हजार रूपये दिये जाने की बात कहीं हं.

घटना के संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक बरगवॉ थाना अंतर्गत चिनगी टोला गांव के बीहड़ वादियों के बीच तकरीबन दर्जनों अवैध कोयले की खदानें संचालित हैं. जिन पर गत एक माह पूर्व प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करते हुये कलेक्टर एम सेलवेन्द्रन एवं पुलिस अधीक्षक इरशाद बली द्वारा इन्हें तत्काल ध्वस्त कराये जाने के निर्देश दिये गये थे. इसके परिपालन में एनसीएल गोरबी द्वारा खदानों के  मुख्य द्वार पर ओवर बर्डन मिट्टी डाल दी गयी थी लेकिन इसके बावजूद भी गांव के  लोगों द्वारा पैसों की लालच में अपनी जान  जोखिम में डालकर उक्त खदानों से  कोयले की निकासी निर्बाध गति  से  की जाती रही. इसी क्रम में आज अलसुबह 4.10 के करीब खदान से कोयला निकालने गये आठ मजदूर जब कोयले की निकासी कर रहे थे उसी दौरान खदान का ऊपरी भाग धसक कर नीचे आ गिरा. जिससे सभी मजदूर खदान में दब गये.

घटना की सूचना मिलने पर पहुंची बरगवॉ पुलिस ने इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी. तथा अधिकारियों के निर्देशन उपरांत खदान से मिट्टी हटाने की प्रक्रिया शुरू हुई. जिसमें खदान में कोयला लेने गये चिनगी टोला गांव के अजामुद्दीन  पिता सफीक, अशफाक मोहम्मद पिता खलील मोहम्मद, मीर हसन पिता शमशेर अली, अल्लाबक्स पिता ताजुद््दीन, सरफुद्दीन पिता अजमेर एवं सफायद अली पिता जाबिर अली मृत पाये गये वहीं खदान की मिट्टी के नीचे दबे तनगू उर्फ इजराइल पिता गफूर मोहम्मद एवं कमलेश कुशवाहा पिता रामदयाल कुशवाहा को पुलिस एवं रेस्क्यू दल की मदद से जीवित बाहर निकाला गया. खदान से निकाले गये घायलों में कमलेश की कमलेश कमर टूट जाना बताया जाता हैं. घायलों को प्रशासनिक निर्देश पर नेहरू शताब्दी चिकित्सालय जयंत एवं जिला अस्पताल बैढऩ भेजा  गया है.

Related Posts: