मानस भवन में रामलीला का समापन

भोपाल, 15 मई. तुलसी मानस प्रतिष्ठïन एवं रामलीला आयोजन समिति के संयुक्त तत्वाधान के समापन दिवस पर रामलीला के सजीव मंचन के माध्यम से आज रामाजी महाराज के नेतृत्व में कलाकारों द्वारा सुंदर अद्ïभुत मंचन किया गया. जिसकों देखकर श्रद्घालु भावविभोर हो गए.

भगवान राम का राज्याभिषेक ऋषि वशिष्ठ ने किया. तत्पश्चात गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता, रामेश्वर शर्मा, अशोक जैन ने भगवान का राज तिलक कर पूजन आरती की. रमाकंात दुबे ने कार्यक्रम का संचालन किया एवं आभार राजेश वर्मा सोनी ने किया. सर्वश्रेष्ठ कलाकारों में चार कलाकार रंजीत सिंह रामायण वाचक, नारेन्द्र मिश्रा शूर्णपंखा और कुशल नृत्यकी में संजय तिवारी रावण एवं परशुराम और राजकुमार मिश्रा लक्ष्मण का गृहमंत्री ने स्मृति चिन्ह पुष्प माला, शाल, श्रीफल आदि से सम्मान किया. अतिथियों का स्वागत शंकरलाल साबू, डॉ. रमेश माघव, राजेश वर्मा सोनी, अजय श्रीवास्तव नीलू, राकेश सिंघई ने किया. तत्पश्चात भगवान राम की पहनी हुई माला एलएल सोनी ने सहर्ष ग्रहण की. तत्पश्चात रामलीला आयोजन समिति ने गृहमंत्री का सम्मान स्मृति चिन्ह प्रदान किया.

समापन दिवस पर राम, सीता और लक्ष्मण के लंका पर विजय प्राप्त कर वापस अयोध्या आते हैं. पूरी अयोध्या सुंदर दीपमालाओं एवं मंगल तोरण द्वार से सुसज्जित है. भव्य राम दरबार सजाया गया. माता कैकेयी अपने हंाथों से भगवान राम का श्रंगार करती हैं. अयोध्यावाषी खुशी से झूम रहे हैं. चारों तरफ खुशियां हैं. जगह-जगह मिठाइयां और फल वितरित हो रही है. मानस भवन का मुक्ताकाश मंच ऐसा लग रहा है कि मानों अयोध्या भोपाल में आ गई है. यह सब सजीव चित्रण देखकर भारी संख्या में उपस्थित भीड़ मंत्रमुग्ध हो गई और नाचने झूमने लगी.

Related Posts: