• एक माह में करना होगा दोषियों को दंडित

भोपाल, 22 नवंबर. विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी ने आज दीनदयाल अत्योदय उपचार योजना के तहत उज्जैन संभाग में संयुक्त संचालक द्वारा 58 लाख रूपये की दवाईयां और अन्य सामग्री बगैर बजट आवंटन के खरीदकर अनियमितता के मामले में दोषियों को एक माह में दंडित कर सदन को सूचित करने क ा निर्देश दिया है.

रोहाणी की यह व्यवस्था प्रश्नकाल के दौरान आई जब कांग्रेस विधायक पांचीलाल मेडा प्रश्र पूछ रहे थे. मेडा ने कहा कि उज्जैन संभाग में वर्ष 2007-08 में संभागीय संयुक्त संचालक दीनदयाल अंत्योदय उपचार योजना के तहत 58 लाख रूपये की दवाईयों और अन्य सामग्री की खरीदी आदेश बजट आवंटन के बगैर करके घोटाला किया गया है. इस मामले में दोषियों के खिलाफ कब तक कार्यवाही की जायेगी. लोक स्वास्थ्य राज्य मंत्री महेन्द्र हार्डिया ने जवाब में कहा कि उज्जैन संभाग के स्वास्थ्य विभाग के संभागीय संयुक्त संचालक को वर्ष 2007-08 में दीनदयाल अंत्योदय उपचार योजना के तहत 58 लाख रूपये की राशि आवंटित की गई थी.तत्कालीन संयुक्त संचालक ने बजट आवंटन के प्रत्याशा में इतनी राशि की दवाईयां और अन्य सामग्री खरीदी थी. इसलिए इस मामले में अनियमितता पाये जाने पर स्वास्थ्य विभाग के तत्कालीन आयुक्त से मामले की जांच कराई गई.आयुक्त की जांच का प्रतिवेदन प्राप्त हो चुका है और इसका परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही की जायेगी.

इसके बाद नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि संयुक्त संचालक ने उक्त योजना के नियमानुसार दवाईयों और सामग्री की खरीदी नही की है. लोक स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने जवाब में कहा कि बजट आवंटन के तहत दी गई राशि से बजट आवंटन की प्रत्याक्षा में दवाईयों और साग्रमी खरीद कर अनियमितता की गई है न कि घोटाला. मंत्री के जवाब से अंसतुष्ट नही होने पर कांग्रेस सदस्यों द्वारा कार्यवाही की मांग किये जाने पर रोहाणी ने स्वास्थ्य मंत्री को इस मामले में एक माह के अंदर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही कर सदन को अवगत कराने के निर्देश दिए.

Related Posts: