इंदौर, 14 अप्रैल.  प्रदेश में विमानन गतिविधियों को और अधिक गतिशील एवं प्रभावी बनाने की आवश्यकता पर जोर दिया । प्रदेश के लगभग सभी बड़े एवं प्रमुख स्थानों को हवाई सेवा से जोडऩे का कार्य किया जा चुका है।

इंदौर के देवी अहिल्या विमानतल पर नवीन भवन और हवाईपट्टी लोकार्पण अवसर पर सूबे के मुखिया श्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि इसी कड़ी में प्रदेश के सभी पचासों जिलों में हवाई पट्टी बनाये जाने का निर्णय लेकर उसका क्रियान्वयन प्रारंभ कर दिया गया है । उन्होंने बताया कि प्रदेश की लगभग आधे जिलों में हवाई पट्टी बनाने का कार्य पूर्ण किया जा चुका है । इंदौर एक एतिहासिक शहर है तथा यहां की उत्कृष्ट परम्पराएं भी हैं । उन्होंने कहा कि इंदौर शहर विकास की ओर तेजी से बढ़ता हुआ शहर है, इसलिए इंदौर में अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा निर्मित किये जाने पर यहां की औद्योगिक गतिविधियां और तेजी से विकसित हो सकेंगी । उन्होंने कहा कि इस अंचल में साग-सब्जी, फल-फूल आदि उत्कृष्ट श्रेणी के पैदा हो रहे हैं और अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बन जाने पर यहां के किसानों को उत्पादकों को विश्व के देशों में भेजा जा सकेगा।

सेटेलाइट राजधानी बने इंदैर : सिंधिया

केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्यमंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज का दिन इंदौर नगर के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में अंकित हो गया है । उन्होंने कि इंदौर नगर को ”देश की आर्थिक सेटेलाईट राजधानी” बनाया जाना उचित होगा । श्री सिंधिया ने इंदौर के विकास के लिये सभी प्रकार के आवागमन की सुविधा सुनिश्चित करने की अवश्यकता प्रतिपादित करते हुए हर संभव सहयोग देने को कहा ।

देश का बढ़ा हुआ नगर : श्रीमती महाजन

इंदौर की सांसद श्रीमती सुमित्रा महाजन ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इंदौर नगर देश का बढ़ता हुआ औद्योगिक नगर है । इसलिए इंदौर नगर को आवागमन की समस्त सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिये उनके द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं । समारोह के प्रारंभ में केन्द्रीय नागर विमानन मंत्रालय के सचिव डॉ.नासीम जैदी ने नए एकीकृत टर्मिनल भवन इंदौर के बारे में जानकारी दी। देने के साथ-साथ भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के द्वारा देशभर में किये जा रहे कार्यों को रेखांकित किया । इस अवसर पर इंदौर के महापौर श्री कृष्णमुरारी मोघे, सांसद श्री कांतिलाल भूरिया सहित विधायकगण, जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिक, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के अधिकारीगण, प्रशासनिक अधिकारीगण एवं मीडियाकर्मी उपस्थित थे ।

इंदौर में समस्त सुविधाएं उपलब्ध : अजीत सिंह

देवी अहिल्या बाई होल्कर विमानतल इंदौर में 135 करोड़ रूपये की लागत से नवनिर्मित किये गये नये एकीकृत टर्मिनल भवन एवं हवाई पट्टी पर किये गये विभिन्न कार्यों के फलस्वरूप अब इंदौर हवाई अड्डे को अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे में परिवर्तित करने से संबंधित लगभग समस्त सुविधाएं उपलब्ध हो गयी हैं, इसलिए इसे अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा बनाये जाने में कोई कठिनाई नहीं होना चाहिए ।

उक्त आशय के उद्गार केन्द्रीय नागर विमानन मंत्री श्री अजीत सिंह ने आज देवी अहिल्या बाई होल्कर हवाई अड्डा इंदौर के नए एकीकृत टर्मिनल भवन के उद्घाटन के पश्चात समारोह को संबोधित करते हुए व्यक्त किये । उन्होंने कहा कि इंदौर मध्यप्रदेश की औद्योगिक नगरी होने के साथ-साथ सांस्कृतिक नगरी भी है । श्री सिंह ने कहा कि इंदौर में सभी प्रकार की औद्योगिक गतिविधियों का संचालन किया जा रहा है, इसलिए यहां पर आवागमन से संबंधित सभी सुविधाएं उपलब्ध करायी जाना समय की आवश्यकता है । उन्होंने कहा कि विकास के लिये वर्तमान दौर में विमानन गतिविधियां उत्कृष्ट श्रेणी की होना आवश्यक है, ताकि सभी क्षेत्रों में कम से कम समय में आना जाना संभव हो सके ।

Related Posts: