नई दिल्ली, 19 मार्च. मास्टर बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के सौवां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाने और बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल के स्विस ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में खिताब बरकरार रखने पर दोनों खिलाडिय़ों को संसद के दोनों सदनों (लोकसभा व राज्यसभा) ने बधाई और शुभकामनाएं दीं.

लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने लोकसभा में सोमवार को प्रश्न काल के बाद अपने संदेश में दोनों खिलाडिय़ों को सदन की ओर से बधाई दी. मीरा कुमार ने कहा कि तेंदुलकर ने मीरपुर में गत 16 मार्च को बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच खेलते हुए अपने करियर का 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाया, जिसके लिए वह बधाई के पात्र हैं. उन्होंने कहा कि सचिन का यह प्रदर्शन हमारे लिए गर्व का विषय है. कुमार ने कहा कि हम तेंदुलकर को और भारतीय क्रिकेट टीम को भी बधाई देते हैं. स्पीकर ने भारत की नंबर एक बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल की स्विस ओपन टूर्नामेंट में लगातार दूसरी खिताबी जीत पर उन्हें भी बधाई दी और भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि सदन की ओर से हम सायना नेहवाल को भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हैं.

सायना ने रविवार को स्विस ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में चीन की शिजियांग वांग को हराकर अपना खिताब बरकरार रखा. भाजपा के तरुण विजय ने राज्य सभा के शून्यकाल में यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि सचिन ने यह साबित कर दिया है कि यदि मन में आत्मविश्वास और हौसला हो तो किसी भी लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है और किसी भी संकट से पार पाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि सचिन ने अपने सौवें शतक से न केवल खेल का, बल्कि भारत का भी गौरव बढ़ाया है. उन्होंने कहा कि सचिन ने नई पीढ़ी को सपना देखने और उसे पूरा करने का हौसला दिया है. विजय ने कहा कि तेंदुलकर ने ऐसे समय में सौवां शतक बना कर भारतवासियों को खुशी दी जब देश के लोग बजट में दिए गए दंश के कारण दुखी थे.

उन्होंने कहा कि तेंदुलकर पूरे देश की उम्मीद बन कर उभरे हैं. सभी दलों के सदस्यों ने सचिन को बधाई देने में खुद को संबद्ध किया. भाजपा के एसएस अहलूवालिया ने कल भारत पाकिस्तान मैच को जिताने में विराट कोहली की आतिशी पारी का जिक्र करते हुए कहा कि निश्चित तौर पर वह पूरे सदन की ओर से बधाई के पात्र हैं. उन्होंने कहा कि विराट कोहली ने 148 गेंदों में 183 रन बना कर भारत को विजय दिलवाई और लाखों देशवासियों का मन जीत लिया.

साइना लगातार दूसरी बार बनीं स्विस ओपन चैंपियन

नई दिल्ली. गत चैंपियन साइना नेहवाल ने स्विट्जरलैंड के बासेल में चीन की शिशियान वांग को फाइनल में सीधे सेटों में हराकर स्विस ओपन ग्रां. प्रि. गोल्ड बैडमिंटन ट्राफी अपने नाम कर ली. दुनिया की पांचवें नंबर की भारतीय खिलाड़ी साइना ने विश्व में तीसरी रैंकिंग पर काबिज शिशियान को 48 मिनट तक चले रोमांचक मुकाबले में 21-19, 21-16 से परास्त कर सत्र का अपना पहला खिताब जीता. शनिवार को अपना 22वां जन्मदिन मनाने वाली साइना ने रविवार को खेले गए मैच में शुरुआत से ही आक्रामक तेवर दिखाए और पहले गेम में 11-3 की बड़ी बढ़त बना ली. चीनी खिलाड़ी ने इसके बाद लगातार चार अंक जुटाते हुए साइना की बढ़त कम की और 17 अंक तक पहुंचते-पहुंचते स्कोर बराबर कर दिया.

आखिर में भारतीय स्टार ने कमर कसी और 21-19 से गेम जीता. दूसरे गेम में भी साइना ने 3-0 की शुरुआती बढ़त बना ली और 11-8 तक इस बढ़त को कायम रखा. शिशियान ने 13 के स्कोर पर साइना की बराबरी कर ली, लेकिन इसके बाद साइना ने लगातार चार अंक जुटाए और विपक्षी को पीछे छोड़ते हुए 21-16 से मैच अपने नाम कर लिया. साइना और शिशियान के बीच यह तीसरी भिड़ंत थी. तीन में से दो मुकाबलों में भारतीय खिलाड़ी ने बाजी मारी है. साइना ने सेमीफाइनल में जापान की मिनात्सू मितानी को 21-16, 21-18 से हराया था. साइना इस महीने के शुरू में आल इंग्लैंड चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंची थीं. वह इस साल मलेशियाई ओपन और जनवरी में कोरिया ओपन के भी क्वार्टर फाइनल में पहुंची थीं.

Related Posts: