बैंकाक, 5 जून. देश की शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल को शुरू हुए थाईलैंड ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट में शीर्ष वरीयता मिली है और वह इस टूर्नामेंट में इंडिया ओपन की असफलता को भुलाने और अपनी ओलंपिक तैयारियों को मजबूत करने के इरादे से आज उतरेंगी.

टूर्नामेंट के पहले दिन क्वालीफायर मुकाबलों में भारत के वेंकटेश प्रसाद को पहले ही दौर में हार का सामना करना पड़ा. वेंकटेश को थाईलैंड के सिरिवात मतायानुमाति ने 26 मिनट में 21-16, 21-19 से पराजित कर दिया. क्वालीफायर में वेंकटेश को छोड़कर अन्य कोई भारतीय नहीं था. महिला एकल में विश्व की पांचवें नंबर की खिलाड़ी सायना के सामने थाई ओपन में इस बार शीर्ष चार चीनी खिलाड़ी नहीं रहेंगी जिससे उनके लिए इस वर्ष स्विस ओपन के बाद दूसरा खिताब जीतने की उम्मीद जतायी जा रही है. सायना अपने अभियान की शुरुआत थाई खिलाड़ी निकोआन जिनदापोन के खिलाफ करेंगी.

महिला एकल में ही भारत की पी वी सिंधु को चौथी वरीयता मिली है. सिंधु कोरिया की मी जिन जुंग के खिलाफ अपना अभियान शुरु करेंगी. जुंग को क्वालीफायर से मुख्य ड्रा में प्रोमोट किया गया है. पुरुष एकल में सौरभ वर्मा को 12वीं और आरएमवी गुरुसाईदत्त को 14वीं वरीयता मिली है. सौरभ का मुकाबला इंडोनेशिया के सुकांता एवर्ट से होगा जबकि गुरुसाईदत्त का मुकाबला मलेशिया के सुन हुआत गोह से होगा. इनके अलावा के श्रीकांत, बी साई प्रणीत, आनंद पवार और समीर वर्मा की भी चुनौती रहेगी.

पुरुष युगल में तरुण कोना और अरुण विष्णु तथा एस संजीत और जगदीश यादव मैदान में उतरेंगे. महिला युगल में अपर्णा बालन और एन सिक्कीरेड्डी तथा प्रदन्या गादरे और प्राजक्ता सावंत उतरेंगी. मिश्रित युगल में अरुण विष्णु और अपर्णा बालन की जोड़ी रहेगी.

Related Posts:

फिर से बढ़ सकते हैं पेट्रोल के दाम
लोकायुक्त के पास विधायकों की शिकायत का अंबार
अभी संन्यास लेने की कोई योजना नहीं
मध्यप्रदेश में मनरेगा के क्रियान्वयन की सराहना
न्यूजीलैंड ने एनएसजी,सुरक्षा परिषद में भारत की दावेदारी का किया समर्थन
सोनभद्र में शक्तिपुंज एक्सप्रेस ट्रेन की सात डिब्बे पटरी से उतरे, कोई हताहत नहीं