नई दिल्ली, 4 जनवरी. द इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया, सोसायटीज एक्ट 1896 के अंतर्गत रजिस्टर्ड अलाभकारी (नॉट फॉर प्राफिट) इंडस्ट्री बॉडी, जिसे ऑनलाइन और मोबाइल वैल्यू ऐडेड सर्विसेज सेक्टर्स के विस्तार और वृद्धि का अधिकार प्राप्त है, इंडिया डिजिटल अवार्डस के द्वितीय संस्करण का आयोजन करने जा रही है, जो इसी आयोजन के साथ होगा. यह अवाडर्स विभिन्न श्रेणियों के अंतर्गत उन सभी व्यक्तियों और कंपनियों की उपब्धियों और प्रयासों के लिए दिए जाएंगे, जिन्होंने भारत में ऑनलाइन और मोबाइल वैल्यू ऐडेड सर्विसेज के विकास और वृद्धि में अपना योगदान दिया है. अपनी तरह के एक अलग अवाड्र्स समारोह 18 जनवरी 2012 को इंडिया बैबिटेट सेंटर नई दिल्ली में आयोजित किए जाएंगे. इंडिया डिजिटल सेंटर नई दिल्ली में आयोजित किए जाएंगे.

इंडिया डिजिटल अवाड्र्स के द्वितीय संस्करण में 6 मुख्य श्रेणियों व कुल 33 उपश्रेणियां हैं. अवार्डस नॉमिनी और विजेताओं का चयन जूरी सदस्यों द्वारा उनके द्वारा प्रविष्टियों के माध्यम से भेजे गए श्रेष्ठ कार्यों के आधार पर किया जाएगा. इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी के विजेताओं का चयन 2 चरणों की विस्तृत चयन प्रक्रिया द्वारा किया जाएगा. पहले चरण में जूरी सदस्य स्वतंत्र रूप से प्रत्येक प्रविष्टि की जांच करेंगे और उसका अपने जांच की संबंधित प्रक्रिया द्वारा मूल्यांकन करेंगे. प्रत्येक प्रविष्टि की जांच एक से अधिक जूरी सदस्य द्वारा होगी. इस प्रक्रिया द्वारा जो सर्वश्रेष्ठ मूल्यांकित प्रविष्टियां सामने आएंगी, उन्हें संबंधित श्रेणी के लिए नॉमिनी हेतु चयनित किया जाएगा तथा आगे ग्रैंड जूरी द्वारा उन्हें जांचा जाएगा. दूसरे चरण में वे प्रविष्टियां जो प्रथम चरण में चयनित की गई होंगी, उन्हें ग्रैंड जूरी के समक्ष रखा जाएगा. ग्रैंड जूरी ही प्रत्येक श्रेणी के विजेता को निर्धारित करेगी. प्रत्येक श्रेणी में मात्र एक ही विजेता होगा. द्वितीय संस्करण के इंडिया डिजिटल अवाड्र्स के लांच की घोषणा करते हुए डॉ. शुभो रे-प्रेसीडेंट ने कहा- यह भारत में डिजिटल इंडस्ट्री का एकमात्र सम्पूर्ण अवार्ड है और विगत कुछ वर्षों में डिजिटल व्यवसायों की बहुमुखता के सामने आने से हमें इसके पैमाने को बढ़ाना पड़ा है.

इंटरनेट एवं मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया भारत में इंटरनेट और मोबाइल वैल्यू ऐडेड सर्विसेज बिजनेस की प्रतिनिधि संस्था (बॉडी) है. भारत में प्रमुख पोर्टल्स द्वारा जनवरी 2004 में इसकी स्थापना की गई. भारत में एकमात्र स्पेशलाइज्ड इंडस्ट्री बॉडी है, जो ऑनलाइन और मोबाइल वैल्यू ऐडेड सर्विसेज इंडस्ट्री के हितों का प्रतिनिधित्व करती है. इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया अलाभकारी इंडस्ट्री बॉडी है, जिसे सोसाइटीज एक्ट 1896, के अंतर्गत रजिस्टर्ड किया गया है. इसे ऑनलाइन और मोबाइल वैल्यू ऐडेड सर्विसेस सेक्टर्स को विस्तार व वृद्धि देने का अधिकार प्राप्त है. सरकार निवेशकर्ताओं, उपभोक्ताओं और अन्य स्टेक होल्डर्स का प्रतिनिधित्व करते हुए यह व्यवसायों की संयुक्त आवाज के रूप में समर्पित है. एसोसिएशन इंटरनेट और मोबाइल इकोनॉमी के मुद्दों, सरोकारों, चुनौतियों को संबोधित करता है और उसके विकास में अग्रणी भूमिका निभाता है.

Related Posts: