मुंबई. औद्योगिक उत्पादन और मुद्रास्फीति से जुड़ी अच्छी खबरों के बावजूद आईटी शेयरों में बिकवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 138 अंक की गिरावट के साथ बंद हुआ। उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में तीस शेयरों वाला सेंसेक्स 138.35 अंक की गिरावट के साथ 16,037.51 अंक पर बंद हुआ।

कारोबार के दौरान एक समय यह दिन के निचले स्तर 15,962.59 अंक पर आ गया था। इसी तरह, नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 29.70 अंक कमजोर होकर 4,831.25 अंक पर बंद हुआ। ब्रोकरों ने कहा कि गुरुवार की गिरावट की मुख्य वजह इंफोसिस द्वारा आय में कमी आने का अनुमान व्यक्त करना और यूरोप में ऋण संकट को लेकर चिंता है। इस दौरान रिफाइनरी कंपनियों के शेयरों में भी गिरावट दर्ज की गई। देश की दूसरी सबसे बड़ी साफ्टवेयर निर्यातक फर्म इंफोसिस का शेयर 8 प्रतिशत से अधिक टूट गया, जबकि रिलायंस इंडस्ट्रीज में भी डेढ़ प्रतिशत की गिरावट आई। इन दोनों कंपनियों का सेंसेक्स में करीब 20 प्रतिशत भारांश है। बाजार ने औद्योगिक उत्पादन में वृद्धि और मुद्रास्फीति में नरमी जैसी सकारात्मक खबरों को भी नजरअंदाज कर दिया।

वायदा बाजार में तांबा कमजोर

मुंबई . वैश्विक बाजार में कमजोर रुख के बीच सटोरियों की बिकवाली से तांबा का वायदा भाव आज 0.25 फीसदी कमजोर हुआ। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में फरवरी डिलिवरी के लिए तांबा का भाव एक रुपया या 0.25 फीसदी कमजोर होकर 406.45 रुपये किलो रहा। इसमें 5,022 लॉट के लिए कारोबार हुआ। इसी प्रकार, अप्रैल डिलिवरी के लिए तांबा की कीमत 95 पैसे या 0.24 फीसदी घटकर 410.20 रुपये किलो रही। इसमें 437 लॉट के लिए कारोबार हुआ। कारोबारियों के अनुसार वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच सटोरियों की बिकवाली से तांबा के वायदा भाव में कमी आई है। उधर, लंदन मेटल एक्सचेंज में तांबा का भाव 0.4 फीसदी कमजोर होकर 7,750.25 डॉलर टन रहा।

Related Posts: