मुंबई. शेयर बाजार में तीन दिनों से जारी तेजी मंगलवार को थम गई। डालर के मुकाबले रुपया टूटकर नए निचले रिकार्ड स्तर पर आने के बीच निवेशकों की ताबड़तोड़ बिकवाली से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 157 अंक टूट गया।

पिछले तीन सत्रों में 153 अंक मजबूत होने वाला सेंसेक्स आज 156.85 अंक की गिरावट के साथ 16,026.41 अंक पर बंद हुआ। इसी तरह, नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 45.55 अंक टूटकर 4,860.50 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स एक समय 16,366.72 अंक के दिन के उच्च स्तर पर पहुंच गया था। लेकिन, रुपया के टूटकर 55 के स्तर से नीचे आने से निवेशकों में उूहापोह की स्थिति पैदा हो गई। निवेशकों ने बैंकिंग, धातु और बिजली कंपनियों के शेयरों में बिकवाली की। सेंसेक्स की 30 में से 26 कंपनियों के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। आज की गिरावट से निवेशकों की झोली 45,000 करोड़ रुपए खाली हो गई।

ब्रोकरों ने कहा कि रुपया में गिरावट थामने के लिए रिजर्व बैंक द्वारा उपायों की घोषणा किए जाने के बावजूद विदेशी फंडों ने बिकवाली जारी रखी। उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने बैंकों पर वायदा एवं विकल्प के सौदों में ओपन पोजिशन लिमिट या पर 10 करोड़ डालर की सीमा लागू कर दी है। ओपन पोजीशन में व्यापारी मांग से ऊंची खरीद के सौदे किए होता है। आज बिकवाली की मार सबसे अधिक बैंकिंग शेयरों पर पड़ी जिससे एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक के शेयर टूटकर बंद हुए।

Related Posts: