वाशिंगटन. बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान को अमेरिकी हवाईअड्डे पर दो बार गलत आधार पर हिरासत में लिए जाने के बाद फंसी अमेरिकी सरकार का कहना है कि यह नस्ली भेदभाव का मामला नहीं है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मार्क टोनर ने  कहा कि शाहरुख को हिरासत में नहीं लिया गया था बल्कि उन्हें कुछ समय के लिए रोका गया था। उन्होंने कहा, मैं इन्हें आवश्यक रूप से एक ही प्रकार की घटनाएं नहीं मानता लेकिन मैं इन्हें दो अलग-अलग घटनाओं के रूप में देखता हूं। स्पष्ट है कि हमने इस घटना पर अपना अफसोस जताया है और माना है कि वह एक सुप्रसिद्ध सितारे व सामाजिक कार्यकर्ता हैं।

 

Related Posts: