शहर के नाइटक्लबों पर पुलिस के छापे का हवाला देते हुए शाहिद ने कहा, पार्टी को रोकने की कोई वजह नहीं है, मुझे तो लगता है कि घर की पार्टियों में ज्यादा मजा आता है, वहां संगीत, खाना आपकी मर्जी का हो सकता है और पूरी मस्ती कर  सकते हैं.

बॉलीवुड अभिनेता शाहिद कपूर का कहना है कि उन्हें क्लबों के मुकाबले घर की पार्टियां ज्यादा पसंद हैं क्योंकि घरों में आयोजित होने वाली पार्टियों में क्लबों से ज्यादा मस्ती होती है.
शहर के नाइटक्लबों पर पुलिस के छापे का हवाला देते हुए शाहिद ने कहा, पार्टी को रोकने की कोई वजह नहीं है, मुझे तो लगता है कि घर की पार्टियों में ज्यादा मजा आता है, वहां संगीत, खाना आपकी मर्जी का हो सकता है और पूरी मस्ती कर सकते हैं. उन्होंने कहा, क्या आप इतने बोरिंग हैं. क्या आप को नहीं मालूम कि घर पर पार्टियां कैसे देते हैं. हाल ही में सहायक पुलिस आयुक्त वसंत दोबले ने नियमों के उल्लंघन का हवाला देकर वर्ली के शिरो नाइटक्लब में छापा मारा था. साथ ही अंधेरी के एस्केप और बांद्रा के रॉयल्टी जैसे मशहूर नाइटक्लबों पर भी छापे मारे गए थे .

Related Posts: