सपना जीत का पूरा नहीं हो सका, खिताबी जंग में हार गईं सायना नेहवाल

ल्यूझू-चीन, 18 दिसंबर. भारतीय बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल को शुरुआती बढ़त के बावजूद लगातार गलतियों के कारण रविवार को बीडब्ल्यूएफ की सत्र की आखिरी विश्व सुपर सीरीज के फाइनल में दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी यिहान वैंग के हाथों हार झेलनी पड़ी. सायना को साल में तीसरी बार खिताबी जंग में हार का सामना करना पड़ा है.

दुनिया की नंबर चार खिलाड़ी सायना इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट के एकल फाइनल में जगह बनाने वाली पहली भारतीय थी लेकिन वह खिताब जीतने में असफल रही. सायना लगभग एक घंटे तक चले मुकाबले में चीन की यिहान से 21-18, 13-21, 13-21 से हार गई. इस जीत से यिहान ने सायना के खिलाफ अपना शत-प्रतिशत रिकार्ड भी बरकरार रखा. वह अब तक सायना को चारों मुकाबलों में हराने में सफल रही हैं. पहले गेम में सायना जब 11-8 से आगे चल रही थी तब वह यिहान के तीखे ड्राप का अनुमान लगाने में नाकाम रही. यिहान ने अलग-अलग तरह के शाट लगाकर भारतीय खिलाड़ी को चकमा दिया और जल्द ही स्कोर 14-14 से बराबर कर दिया. सायना ने ताकतवर स्मैश के जरिए 16-14 से बढ़त बनाई लेकिन नेट पर दो कमजोर शाट के कारण चीनी खिलाड़ी 18-16 से फिर से उनके करीब पहुंच गई. यिहान ने लंबी रैली के बाद जब शाट बाहर मारा तो सायना को 19-16 से बढ़त मिल गई लेकिन सर्विस मिलने पर यिहान ने इसका फायदा उठाया और 19-18 से अंतर कम कर दिया. सायना आखिर में नेट पर अच्छे खेल और क्रास कोर्ट शाट के दम पर यह गेम अपने नाम करने में सफल रही जिससे घरेलू दर्शक सन्न रह गए.  दूसरा गेम भी काफी रोमांचक रहा तथा शुरू में दोनों खिलाडिय़ों ने एक दूसरे को बराबरी की टक्कर दी. सायना सही तरह से अनुमान लगा रही थी लेकिन यिहान की सटीकता उनके लिए परेशानी खड़ी करती रही. जब स्कोर 5-7 था तब सायना ने यिहान के साथ लंबी रैली खेलकर अपने ट्रेडमार्क बाडी स्मैश से अंक अर्जित किया. सायना ने कोर्ट को भी अच्छी तरह से कवर किया था लेकिन यिहान तब भी खाली जगह पर शटल मारने में सफल रही.

सायना ने तेज ड्राप से स्कोर 8-8 से बराबर किया लेकिन इसके बाद दो गलतियों के कारण चीनी खिलाड़ी 11-9 से आगे हो गई. सायना ने इसके बाद अच्छा खेल दिखाया और स्कोर 11-11 से बराबर कर दिया. यिहान ने हालांकि यहां से सायना को बेसलाइन तक सीमित रहने दिया और 15-11 से आगे हो गई. सायना की गलतियों के कारण उन्होंने जल्द ही स्कोर 18-11 कर दिया. सायना ने इसके बाद दो अंक हासिल किए लेकिन वह आगे यही लय बरकरार नहीं रख पाई. सायना ने तीसरे गेम के शुरू में ही गलतियां की जिससे यिहान 3-0 से आगे हो गई. भारतीय खिलाड़ी ने फिर दो अंक अर्जित किए लेकिन तब भी यिहान 6-3 से आगे जिसे उन्होंने जल्द ही 9-3 कर दिया. सायना ने फिर से वापसी की कोशिश की और 6-9 से अंतर कम करने की कोशिश की. ब्रेक के समय चीनी खिलाड़ी 11-7 से आगे थी. इसके बाद उन्होंने सायना की गलतियों को जमकर फायदा उठाया और 17-8 की बढ़त पर पहुंच गई जिसके बाद उन्हें मैच और खिताब जीतने में ज्यादा परेशानी नहीं हुई. यह यिहान का इस साल का छठा खिताब है। सायना साल में तीसरी बार उपविजेता रही.

Related Posts: