आदिवासियों की जमीन हड़पने का आरोप

भोपाल,12 अप्रैल,नभासं. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष प्रभात झा ने नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह और उनके परिजनों पर कोल आदिवासियों की जमीन पर कब्जा करने, सरकारी जमीन पर अपने नाम पट्टे कराने के आरोपों के दस्तावेजी सुबूत समेत जांच का आवेदन गुरूवार को राज्य अनुसूचित जनजाति आयोग को सौंपा.

इसमें सिंह की मां सरोज कुमारी और भाई अभिमन्यु सिंह के नाम भी सरकारी जमीन के पट्टे में होने का आरोप लगाया गया है. आयोग के अध्यक्ष रामलाल रोतेल ने शिकायत की जांच एक माह में पूरी कर राज्य सरकार को पेश करने की बात कही है. झा ने कहा कि दस्तावेजी शिकायत चार दिन बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को और उसके चार दिन बाद लोकायुक्त को भी सौंपी जाएंगी. उन्होंने कहा कि दूसरों पर आरोप लगाने के आदी अजय सिंह और उनका परिवार आदिवासियों की जमीन पर कब्जे में लिप्त है. ढाई साल पहले और अब आठ साल से भाजपा की सरकार होने के बावजूद अब तक कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई? इस सवाल पर झा ने कहा कि अब तक कार्रवाई नहीं हुई तो क्या अब यह मामला उठाना गलत है?

हमारी जानकारी में जब बात आई, हमने पार्टी स्तर पर जांच कमेटी बनाकर जांच कराई और उसकी दस्तावेजी रिपोर्ट के आधार पर आयोग में शिकायत की है. सरकार और लोकायुक्त में भी करेंगे, कार्रवाई करना सरकार, आयोग और जांच एजेंसियों का काम है. उधर,आयोग के अध्यक्ष रोतेल ने कहा कि आयोग अलग अलग विषयों पर मिली शिकायतों की जांच विशेषज्ञों को सौंपता है. जमीनों पर कब्जे का आरोप राजस्व विभाग से संबंधित है. इसलिए राजस्व विशेषज्ञों से जांच कराने के बाद रिपोर्ट एक माह के भीतर शासन को सौंप दी जाएगी.

Related Posts: