भोपाल, 5 जून.मध्यप्रदेश लोक अभियोजन संचालनालय का गठन 8 जून 1987 को हुआ. इस वर्ष मध्यप्रदेश लोक अभियोजन विभाग को पुलिस विभाग से पृथक स्वतंत्र रूप से कार्य करते हुये 25 वर्ष पूर्ण होने जा रहे है.

इस पच्चीस वर्षो में इस विभाग ने प्रत्येक न्यायालय में एक अभियोजन अधिकारी कार्य करें तथा सत्र न्यायालयों में चिन्हित सनसनी खेज जघन्य अपराधों में एवं म.प्र. में भ्रष्टïाचार अधिनियम के  प्रकरणों की सुनवाई हेतु न्यायालयों में पैरवी करें इस आशय से प्रत्येक जिले में उप संचालक अधियोजन लोक अभियोजक की नियुक्ति हेतु कदम बढ़ाए है, जिसके परिणाम स्वरूप सजा के प्रतिशत में बढ़ोत्तरी से अभियोजन के प्रति जन विश्वास बढ़ा है. 8 जून को समस्त अभियोजन अधिकारी कर्मचारी स्थापना दिवस के रूप में अभियोजना के प्रत्येक जिला कार्यालय व तहसील कार्यालयो में मनाई जायेगी. इसके माध्यम से जनमानस को संदेश पहुंचाया जायेगा.

जनमानस को संदेश देवे की राज्यी ओर पीडि़तों को न्याय दिलाने में उनके द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाती है. पीडि़तों एवं गवाहों की सुविधा जानकारी हेतु अभियोजन विभाग एक हेल्पलाइन आरंभ करें. हेल्पलाइन के माध्यम से पीडि़त अपनी जिज्ञासाओं जानकारियों पर चर्चा कर सकेंगे एव वैधानिक समस्या होने पर उसका समाधान भी पा सकेंगे.

Related Posts: