हेमा मालिनी प्रस्तुत करेंगी दुर्गा नृत्य, स्थापना दिवस की तैयारियां अन्तिम चरण में

भोपाल, 30 अक्टूबर. मध्यप्रदेश स्थापना दिवस 01 नवम्बर पर आयोजित भव्य सांस्कृतिक समारोह की तैयारियां अंतिम चरण में है. संस्कृति एवं जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने आज रोटरी क्लब परिसर में लगभग 800 कलाकारों द्वारा किये जा रहे रिर्हसल का अवलोकन किया. शर्मा लाल परेड मैदान पर तैयारियों का जायजा लिया.

उन्होंने निर्माणाधीन मंच, साज-सज्जा और बैठक व्यवस्था का निरीक्षण किया. इस अवसर पर नगर निगम, संस्कृति और जिला प्रशासन के अधिकारी उपस्थित थे. यह पहला अवसर है जब विश्वविख्यात पाश्र्वगायिका सुश्री आशा भोंसले मध्यप्रदेश में सांगीतिक प्रस्तुति देने आ रही हैं. प्रसिद्घ नायिका सुश्री हेमामालिनी का दुर्गा नृत्य स्थापना दिवस समारोह का प्रमुख आकर्षण होगा. संस्कृति मंत्री शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से लगभग 3.50 लाख निमंत्रण पत्र घर-घर पहुंचाये गये हैं. लाल परेड मैदान पर बैठने की समुचित व्यवस्था की गई है.

लाल परेड मैदान पर एक नवंबर को शाम 6 बजे से यह आयोजन होगा. पूरी तरह से नि:शुल्क कार्यक्रम की थीम नारी की सर्जना और सामथ्र्य पर आधारित होगी. मध्यप्रदेश गान से कार्यक्रम का आगाज होगा. इसके बाद प्रदेश के पारंपरिक नृत्यों की प्रस्तुतियां व अन्य आयोजन होंगे. मध्यप्रदेश की जीवनदायिनी नदियों, नदियों के आसपास पल्लवित संस्कृति और आधुनिक समय में उनके आसपास के वातावरण को रेखांकित करने वाले विशेष सांस्कृतिक समवेत शुभ्राश् का प्रस्तुतिकरण होगा. शानदार लेजर शो के जरिये नारी की सर्जना और सामथ्र्य को प्रस्तुत किया जायेगा. रंगारंग आतिशबाजी भी होगी. मध्यप्रदेश के लगभग 800 कलाकार जिसमें जनजातीय, लोक कलाकार, और शास्त्रीय कलाकार शामिल है, अपनी प्रस्तुतियां देगे. जनजातीय नृत्य में गोंड, भगोरिया, भील, बैगा, कोरकू, गुड्म बाजा की प्रस्तुती होगी. बुन्देलखंड का बधाई बरेदा और नौरता मालवा का मटकी और निमाड़ का गणगौर एवं काठी नृत्य प्रस्तुत होगा.

राज्यपाल रामनरेश यादव कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होगे. मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह कार्यक्रम की अध्यक्षता करेगें. संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा एवं अन्य गणमान्य विशिष्ट अतिथि विशेष रूप से उपस्थित रहेगें. संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने राजधानी और मध्यप्रदेश के नागरिकों से राज्य स्तरीय मध्यप्रदेश स्थापना दिवस समारोह में बड़ी संख्या में शामिल होकर मध्यप्रदेश के गौरव दिवस में सहभागिता करने की अपील की है. सुश्री आशा भोंसले ने अपने रिकार्डेड संदेश में भोपाल के नागरिकों से बड़ी संख्या में उन्हें सुनने के लिए लाल परेड आने का आमंत्रण दिया है. सुश्री भोंसले ने अपने संदेश में मध्यप्रदेश में पहली बार सांगीतिक प्रस्तुति के लिए प्रसन्नता व्यक्त की है.

Related Posts: