हैदराबाद, 26 अगस्त. भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने पहले क्रिकेट टेस्ट में न्यूजीलैंड के खिलाफ आलराउंड प्रदर्शन के लिए अपने खिलाडिय़ों की सराहना की लेकिन साथ ही कहा कि नियमित तौर पर बारिश की बाधा के बीच कीवी टीम को दो बार आउट करना आसान नहीं था.

धोनी ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा कि इस विकेट पर कड़ी मेहनत करने की जरूरत थी, उन्हें (न्यूजीलैंड) आउट करना मुश्किल था. हमें मौसम से भी जूझना पड़ रहा था और कभी यह सुनिश्चित नहीं था कि हमें कितने ओवर फेंकने के लिए मिलेंगे. यह भी एक कारण था कि हमने उन्हें फालोआन के लिए आमंत्रित किया. भारतीय कप्तान ने क्षेत्ररक्षकों के प्रयास की भी सराहना की और जोर देकर कहा कि टीम क्षेत्ररक्षण का स्तर सुधारने के लिए प्रतिबद्ध है.

उन्होंने कहा कि कैचिंग शानदार थी, वीरू पा (वीरेंद्र सहवाग) ने कुछ बहुत अच्छे कैच लपके और विराट कोहली का क्षेत्ररक्षण भी काफी अच्छा था. हम इसे आगे भी जारी रखना चाहते हैं. भारत ने पहली पारी में 438 रन बनाने के बाद न्यूजीलैंड को दो बार आउट करके पारी और 115 रन की जीत दर्ज की. चेतेश्वर पुजारा ने 159 रन की शानदार पारी खेली जिससे भारत ने 400 से अधिक का स्कोर खड़ा किया. रविचंद्रन अश्विन ने इसके बाद टेस्ट मैच में अपने कैरियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 85 रन देकर 12 विकेट चटकाए और टीम इंडिया को आसान जीत दिलाई.

Related Posts: