भोपाल,1 जून, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया ने आज आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार से प्राप्त धनराशि से राज्य सरकार ने 15 मार्च से 31 मई 2012 तक समर्थन मूल्य पर जो   84 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी बतायी है, उसमें 40 लाख मीट्रिक टन वह गेहूं शामिल है

जो असली किसानों का हक मारकर बिचौलियों, व्यापारियों और अन्य अपात्र व्यक्तियों से फर्जी तौर पर खरीदा गया है. आपने कहा है कि प्रदेश के इतिहास का यह पहला वर्ष है जब समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी में इतने बड़े घोटाले हुए हैं. किसानों के नाम पर जहां एक ओर पीडीएस का लाखों टन पुराना गेहूं खरीदा गया है-वहीं दूसरी ओर भाजपाई बिचौलियों के दबाव में उ.प्र., गुजरात और महाराष्ट्र से लाये गये गेहूं की भी समर्थन मूल्य पर भारी मात्रा में खरीदी हुई है. आपने कांग्रेस की घोषणा को पुन: दोहराते हुए कहा है कि इस वर्ष शिवराज सरकार ने वास्तविक अन्नदाता किसानों के साथ बड़ी धोखेबाजी की है और उनको खूब परेशान भी किया है. कांग्रेस प्रदेश के किसानों के साथ पूर्ववत् खड़ी रहेगी और जब तक समर्थन मूल्य पर सभी किसानों के गेहूं का दाना-दाना सरकार नहीं खरीदेगी, तब तक कांग्रेस चैन से नहीं बैठेगी. आपने समर्थन मूल्य पर इस साल की सारी गेहंू खरीदी की सी.बी.आई. जांच की मांग की है.

भाजपा ‘वोट’ के लिए ‘नोट’ की शरण में

प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के अध्यक्ष मानक अग्रवाल ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी जब चुनाव अथवा उपचुनाव में पराजय की आशंका से बुरी तरह घिरती है, तो वह ‘वोट’ के लिए ‘नोट’ की शरण में पहुंच जाती है. महेश्वर उपचुनाव में शायद अपनी कमजोर स्थिति को देखकर भाजपा अंतिम शस्त्र के रूप में नोट का इस्तेमाल करने की मन:स्थिति बना चुकी है.उन्होंने बताया है कि आज खरगौन जिले के बलवाड़ा में पुलिस ने क्रमांक एम.पी. 09/ 3 जी-3718 नंबर का एक स्विफ्ट वाहन जब्त किया है.

बलवाड़ा महेश्वर से 35 किलोमीटर दूरी पर है. इस गाड़ी में सुभाष शर्मा नामक व्यक्ति 26 लाख रूपये लेकर महेश्वर जा रहा था. बलवाड़ा की पुलिस ने गाड़ी के साथ-साथ यह धनराशि भी जब्त कर ली है और सुभाष शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस आगे जांच कर रही है.

Related Posts: