नई दिल्ली,  27 अप्रैल. बीजिंग ओलम्पिक खेलों में कांस्य पदक जीतकर इतिहास बनाने वाले पहलवान सुशील कुमार ने एक बार फिर ओलम्पिक खेलों के लिए क्वालीफाई कर लिया, चीन के ताईयूआन में चल रहे विश्व ओलम्पिक कुश्ती क्वालीफाईंग टूर्नामेंट में शुक्रवार को सुशील ने 66 किलो वजन वर्ग के फाइनल में पहुंचने के साथ ही यह उपलब्धि हासिल कर ली है.

इस तरह सुशील भारत का चौथा पहलवान हो गया है जिसने 27 जुलाई से शुरू होने वाले लंदन ओलम्पिक खेलों के लिए क्वालीफाई किया है. इससे पहले कजाकिस्तान के अस्ताना में एशियाई क्वालीफाईंग प्रतियोगिता से अमित कुमार (55किलो) ने स्वर्ण पदक और योगेश्वर दत्त (60 किग्रा) ने रजत पदक जीत कर लंदन ओलम्पिक के लिए अपना टिकट पक्का किया था. इसके अलावा इसी प्रतियोगिता से गीता (55किलो) स्वर्ण पदक प्राप्त कर ओलम्पिक के लिए क्वालीफाई करने वाली भारत की पहली महिला पहलवान बनी थी.

सुशील को तीसरे ओलंपिक क्वालीफाइंग टूर्नामेंट में आज पहले दौर में बाई मिली थी. उसने अगले दौर में पलाउ के लारेंस एलेक्जेंडर को 7-0 और फिर ऑस्ट्रेलिया के लारेंस एलेक्जेंडर को 5-0 से हराया. उसने सेमीफाइनल में उक्रेन के एंडी क्वातकोवस्की को 3-1 से शिकस्त देकर फाइनल में जगह बनाई. इस प्रतियोगिता में पहले तीन स्थान पर रहने वाले पलहवानों को लंदन ओलम्पिक का टिकट मिलेगा. प्रतियोगिता के पहले दिन आज चार फ्रीस्टाइल वर्ग के मुकाबले हुए जिसमें केवल सुशील ही क्वालीफाई कर पाया. चीन की इस प्रतियोगिता के लिये भारत ने तीन महिलाओं सहित 15 पहलवानों को भेजा गया है. जिसमें से आज फ्री स्टाइल के चार वजन वर्ग के मुकाबले हुए जिसमें मौसम खत्री (96 किग्रा) पहले दौर में बाई मिलने के बाद किर्गिस्तान के मागोमेद मुसाऐव से हार गये जबकि एक अन्य पहलवान पवन कुमार (84 किग्रा) ने पहले दौर में किर्गिस्तान के यूसुपोव को हराया लेकिन दूसरे दौर में वे रोमानिया के जी स्टीफन से हार गए. नरसिंह यादव (74 किलो) ने पहले दौर में बाई लेने के बाद अगले दौर में स्लोवाकिया के रोबर्ट ओले को हराया और तीसरे मुकाबले में किर्गिस्तान के बाजरोव बातोर से हार गए.

Related Posts: