घर में दफन था शव, ताऊ सहित 6 गिरफ्तार

मुरैना/कैलारस, 28 नवम्बर. कैलारस थाना क्षेत्र में एक कलयुगी तांत्रिक ताऊ द्वारा जमीन में गड़े खजाने को हांसिल करने की चाह में अपनी भतीजी की बलि चढ़ाकर उसका शव घर में दफन कर दिया.

17 नवम्बर को सोनू पुत्र महेश नामदेव निवासी समाधिया कॉलोनी ग्वालियर ने कैलारस पुलिस थाने में अपनी बहिन रानी उम्र 16 वर्ष के गायब होने की रिपोर्ट दर्ज कराई. तब उसने पुलिस के समक्ष अपने ताऊ व उसके परिवार पर रानी की हत्या किये जाने की आशंका व्यक्त की थी. जिस पर से पुलिस जब सोनू के ताऊ आनंद नामदेव के घर पहुंची तो वहां ताला लगा मिला. ताऊ अपनी पत्नी मुन्नी पुत्रगण विशम्भर, पूरन, पुत्रबधु सपना व पुत्री लक्ष्मी के साथ फरार था. तब पुलिस ने इसे गुमशुदगी का मामला मानकर जांच शुरू की. मुखबिर ने पुलिस को बताया कि गायब हुई रानी के ताऊ सपरिवार विश्रोरी व गणेशपुरा पंचायत में देखे गये है. जिस पर से पुलिस ने बीते रोज ताऊ व उसके परिवार को हिरासत में ले लिया. पुलिसिया पूछताछ में रानी के ताऊ आनंद ने तांत्रिक विद्या के लिये रानी की बलि चढ़ाकर हत्या किया जाना कबूल किया. उसने बताया कि हत्या के बाद रानी के शव को उसने घर में गड्डा खोदकर दफन कर दिया था. जिस पर से पुलिस आज उसके घर पहुंची और ताऊ द्वारा बताये गये स्थान को खुदवाकर रानी के शव को बरामद किया. पुलिस ने ताऊ आनंद के घर से बड़ी संख्या में तांत्रिक साहित्य की किताबें व तंत्र विद्याओं में प्रयुक्त होने वाला त्रिशूल भी बरामद किया  है.

Related Posts: