छह कप से अधिक चाय पीने से दिल की बीमारी होने का खतरा एक तिहाई कम रहता है. नीदरलैंड्स के शोधकर्ताओं ने पाया है कि दिन में कई कप कॉफी या चाय पीने से दिल की सेहत अच्छी बनी रहती है.शोधकर्ताओं ने 13 साल तक चले अध्ययन के बाद इस नतीजे को प्रकाशित किया है. अध्ययन का प्रकाशन अमरीकन हार्ट एसोसिएशन के जर्नल में किया गया है”

अध्ययन में 40,000 लोगों को शामिल किया गया. शोध के मुताबिक जो लोग एक दिन में छह कप से अधिक चाय पीते हैं, उनके लिए दिल की बीमारी होने का खतरा एक तिहाई कम हो जाता है.शोध में यह बात भी सामने आई कि दिन में दो से चार कप काफी पीने से भी दिल की बीमारी होने के खतरे कम हो जाते हैं. हालांकि इस बात पर अलग-अलग रिपोर्ट मिली कि चाय में दूध मिला देने से पॉलिफिनॉल के प्रभाव कम हो जाते हैं. पॉलिफिनॉल चाय में पाया जाने वाला पदार्थ है जो काफी फायदेमंद होता है.

कॉफी का सीमित सेवन फायदेमंद
कॉफी में ऐसे गुण होते हैं जो एक साथ जोखिम बढ़ाते भी हैं और घटाते भी. इसके सेवन से जहां एक तरफ कोलेस्ट्राल बढ़ता है, वहीं दूसरी तरफ यह दिल की बीमारियों से लड़ता है.लेकिन अध्ययन में यह भी कहा गया है कि अगर आप दिन में दो से चार कप कॉफी पीते हैं तो इससे बीमारी होने का खतरा 20 फ़ीसदी कम हो जाता है. इस अध्ययन से उन प्रमाणों को बल मिलता है कि हल्की मात्रा में चाय या काफी का सेवन अधिकतर लोगों के लिए नुकसानदेह नहीं है. हालांकि अगर आप कॉफी के साथ सिगरेट पीते हैं तो ये सभी फायदे समाप्त हो जाते हैं.

अध्ययन की अगुवाई करने वाले प्रोफेसर वोनी वांडर शा के अनुसार, चाय या कॉफी पसंद करने वाले लोगों के लिए यह एक अच्छी खबर है. इनके सेवन से मौत का जोखिम पैदा किए बिना ही दिल की सेहत अच्छी बनी रहती है. ब्रिटिश हर्ट फाउंडेशन की एलेन मैसन ने कहा, इस अध्ययन से उन प्रमाणों को बल मिलता है कि हल्की मात्रा में चाय या काफी का सेवन अधिकतर लोगों के लिए नुकसानदेह नहीं है. हालांकि अगर आप कॉफी के साथ सिगरेट पीते हैं तो ये सभी फायदे समाप्त हो जाते हैं.उन्होंने यह भी कहा कि हमें यह बात याद रखनी चाहिए कि अगर आप अपने हृदय को सेहतमंद रखना चाहते हैं तो कुल मिलाकर एक सेहतमंद जीवन शैली अपनानी होगी.

Related Posts: