मुंबई, 20 नवंबर. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतकों के महाशतक से एक कदम दूर खड़े महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के पास यहां मंगलवार से वेस्टइंडीज के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में घरेलू दर्शकों के सामने 100वां अंतरराष्ट्रीय शतक बनाने का मौका होगा.

विश्व कप के दौरान 12 मार्च को नागपुर में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 111 रन की पारी खेलने के बाद तेंदुलकर शतक नहीं बना पाए हैं. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तेंदुलकर की यह पारी उनका 48वां वनडे शतक और 99वां अंतरराष्ट्रीय शतक था. मुंबई में विश्व कप फाइनल में जीत के बाद से तेंदुलकर ने सिर्फ टेस्ट क्रिकेट खेला है लेकिन इस दौरान वह इंग्लैंड में चार टेस्ट और मौजूदा सीरीज में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले दो टेस्ट में 100वां शतक पूरा करने में विफल रहे. तेंदुलकर इंग्लैंड में द ओवल में चौथे और अंतिम टेस्ट में सिर्फ नौ रन से शतक से चूक गए.

इस दिग्गज बल्लेबाज ने अपने घरेलू मैदान पर अब तक केवल एक टेस्ट शतक जड़ा है और वह भी श्रीलंका के खिलाफ 14 साल पहले जब उन्होंने 148 रन की पारी खेली थी. लेकिन इस मैदान पर आठ मैचों में उन्होंने 52 से अधिक की औसत से 734 रन बटोरे हैं. तेंदुलकर ने वानखेड़े में 11 वनडे मैचों में भी सिर्फ एक शतक जमाया है. उन्होंने दिसंबर 1996 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यहां 114 रन की पारी खेली थी. इस बीच मुंबई क्रिकेट संघ के सूत्रों के मुताबिक पहले दो टेस्ट की तरह इस मैच के लिए दर्शकों का उत्साह काफी अधिक नहीं है. संघ को हालांकि उम्मीद है कि तेंदुलकर की संभावित उपलब्धि दर्शकों को मैदान पर खींचने में सफल रहेगी. एमसीए अधिकारियों को सुनील गावस्कर पूर्वी स्टैंड के भी सभी टिकट बिकने की उम्मीद है. यहां एक दिन के टिकट की कीमत 50 रुपये जबकि पांच दिन के टिकट की कीमत 150 रुपये है. संयुक्त सचिव नितिन दलाल ने कहा कि एमसीए ने स्कूली छात्रों को स्टेडियम में आकर मैच देखने के लिए प्रतिदिन 2000 मुफ्त टिकट जारी करने का फैसला किया है.

Related Posts:

सराफा में छाई मंदी
राज्य सरकार के दस साल पूरे होने पर, सरकार अपना रिपोर्ट कार्ड जनता को देगी
प्रधानमंत्री मोदी खुद असहिष्णुता के पीडि़त, सम्मान लौटाने वालों पर जेटली का निशा...
रिलायंस जियो को उच्चतम न्यायालय से राहत
कॉलेजियम से अलग निकाय बनाने संबंधी याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज
इंदौर के अति विशिष्ठ क्षेत्र स्थित बीसीएम हाइट़स भवन में आग