हैदराबाद, 20 अगस्त. महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल को बीएमडब्ल्यू कार भेंट में दी.

तेंदुलकर ने कहा कि दुनिया ने अभी इस स्टार खिलाड़ी का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं देखा है. आंध्र प्रदेश बैडमिंटन संघ के उपाध्यक्ष चामुंडेश्वरी नाथ ने यह सम्मान समारोह आयोजित किया. इस स्टार बल्लेबाज ने सम्मान समारोह में कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि वह इस प्रदर्शन से खुश है लेकिन संतुष्ट नहीं है. हम भी संतुष्ट नहीं है क्योंकि हम जानते हैं कि आप इससे भी अधिक ऊंचाईयां छू सकती हैं. गोपीचंद की अगुवाई में आपमें यह करने की क्षमता है. बतौर खिलाड़ी आपको और आगे बढऩा है. तेंदुलकर ने साइना के लिए बीएमडब्ल्यू और उनके कोच पी गोपीचंद और पीवी सिंधू प्रत्येक के लिए एक-एक कार देने की घोषणा करते हुए कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि आपका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आना बाकी है और हम भी यही चाहते हैं. उन्होंने कहा कि यह पदक भारत के लिए काफी मायने रखता है. यह पदक बिना मेहनत के नहीं मिला है.

मुझे कोई सूचना नहीं मिली

नई दिल्ली. भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान रवि शास्त्री ने राजीव गांधी खेल रत्न और अर्जुन पुरस्कार के लिए हुई बैठक में भाग नहीं लेने को लेकर हो रही आलोचना को खारिज करते हुए कहा कि उन्हें खेल मंत्रालय से इसकी सूचना नहीं मिली थी. शास्त्री उस 15 सदस्यीय समिति के सदस्य थे जिसने बैठक के बाद पुरस्कारों की घोषणा की. शास्त्री ने कहा कि आज के दौर में जबकि किसी से संपर्क करना इतना आसान है, मुझे मंत्रालय से मोबाइल फोन पर कोई फोन या एसएमएस नहीं मिली.

कोई ईमेल या साधारण निमंत्रण भी नहीं. खेल मंत्रालय के सूत्रों के हवाले से अखबारों ने कहा कि पिछले कुछ दिन से शास्त्री से संपर्क की लगातार कोशिशें की गई जो नाकाम रही. शास्त्री ने कहा कि समिति में चुना जाना फख्र की बात है. लेकिन मीडिया से ही यह सुनने को मिला. आज के इस दौर में जबकि संपर्क करना इतना आसान है, मुझे हैरानी है कि कोई मुझसे संपर्क नहीं कर सका. पेनल में शामिल दस खिलाडिय़ों में से रवि शास्त्री और पूर्व फुटबाल कप्तान बाईचुंग भूटिया ने बैठक में भाग नहीं लिया था.

Related Posts: