खाद्य औषधि विभाग ने मावा किया जब्त, जांच के लिए लैब भेजा जाएगा सेंपल

भोपाल, 8 जून नभासं. मिलावटी खाद्य पदार्थों में मिलावटखोरी व मुनाफावाजी का सिलसिला राजधानी में थम नहीं रहा. गुरूवार को ग्वालियर से एक मिनी ट्क में लदा लगभग 1 ट्क मावा खाद्य एवं औषधि विभाग ने बरामद किया है.

विभाग को आशंका थी कि यह मावा में मिलावट है. खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम ने आज सुबह करीब साढ़े आठ बजे पुराने शहर के इतवारा क्षेत्र में ग्वालियर से आया एक मिनी ट्रक मावा पकड़ा. अधिकारियों के मुताबिक ट्रक क्रंमांक एमपी 07 बीए 1995 में 100 डलिया से अधिक मावा भरा हुआ था. जिसका अनुमानित वजन 60 से 70 क्विंटल है. इसकी कीमत अधिकारियों ने लगभग 9 लाख है. गौरतलब है कि ग्वालियर दूध, पनीर, घी, मावा में मिलावट किए जाने के लिए प्रसिद्ध हो चुका है. इसी आशंका पर खाद्य सुरक्षा अधिकारियों ने उक्त ट्रक में लटे मावा को जब्त करते हुए ट्रक को ईदगाह हिल्स स्थित खाद्य एवं औषधि प्रशासन के कार्यालय पहुंचा दिया. यहां प्रयोगशाला में मावे की गुणवत्ता की जांच की जाएगी. जांच के उपरांत पता चलेगा कि मावा असली है या मिलावटी. खाद्य सुरक्षा अधिकारी बीएस धाकड़ ने बताया कि उक्त मावे का परिवहन ग्वालियर की ट्रांसपोर्ट फर्म के संचालक जीतेन्द्र भदौरिया द्वारा किया जाता है. इसके पहले भी ग्वालियर के कई व्यापारियों का मावा राजधानी में पकड़ा जा चुका है. बीएस धाकड़ ने बताया कि यह भी पता लगाया जा रहा है कि यह मावा राजधानी के किन-किन दुकानदारों व होटलों में बिकता था. इसके बाद विभाग इन होटलों पर भी कार्यवाही करेगा. क्योंकि यही मावा बाजार में खपता है.

Related Posts: