नई दिल्ली। दुनिया का सबसे ताकतवर टेलीस्कोप ने काम करना शुरू कर दिया है। इसे बनाने में लगभग 1.3 अरब डॉलर की लागत आई है। चिली में लगाए गए इस टेलीस्कोप ने भले ही सुदूर अंतरिक्ष की पहली तस्वीर खींची हो। लेकिन वह पूरी तरह से काम करना 2013 में शुरू करेगा। पहली तस्वीर को खींचने के लिए इसने अपने एक चौथाई एंटीनों का इस्तेमाल किया है। इसके बावजूद एटाकामा एटाकामा लार्ज मिलीमीटर/ सब मिलीमीटर ऐरी [एल्मा] द्वारा खींची गई आकाशगंगा की यह तस्वीर अद्भुत है। इसमें दो आकाशगंगाओं को आपस में टकराते हुए दिखाया गया है। ऐसी तस्वीर इस टेलीस्कोप के अलावा दुनिया में कोई नहीं खींच सकता है।

यह अब तक का बना सबसे महंगा टेलीस्कोप है। इसके अलावा यह दुनिया में सबसे ऊंचाई लगभग 16 हजार फीट पर भी लगाया गया है। इसे चिली के एटाकामा डेजर्ट में लगाया गया है। एटाकामा डेजर्ट अपनी शांति, सूखेपन और स्पष्टता के लिए जाना जाता है। इस प्रायोगिक तस्वीर के जरिए टेलीस्कोप की रेडियो तरंगों का इस्तेमाल करने की क्षमता को जांचा गया था। यह तस्वीर इंफ्रारेड टेलीस्कोप या रोशनी में भी नहीं देखी जा सकती है। प्रोजेक्ट मैनेजर अमेरिका के मार्क मैक्किन्नोन ने कहा कि एल्मा रेडियो टेलीस्कोप का परीक्षण पूरी तरह से सफल रहा। इसकी तस्वीरों से तारों के बारे में कई अहम जानकारियां जुटाई जा सकती हैं। यह हमें नए सोलर सिस्टम के निर्माण की जानकारियां तक उपलब्ध करवा सकता है। यह ठंडे बादलों के आर-पार भी देख सकता है। जैसे-जैसे एल्मा के एंटीना काम शुरू करते जाएंगे उसकी तस्वीरें उतनी ही साफ होती जाएंगी। एल्मा से आई जानकारियों को वर्जीनिया स्थित नेशनल रेडियो एस्ट्रोनॉमी ऑब्जर्वेट्री में इकठ्ठा किया जाएगा।

मार्क ने बताया कि हमने एक दशक पहले इस एल्मा के लिए तैयारियां करना शुरू कर दिया था। हालांकि उस समय यह सपना सरीखा लगता था। एटाकामा डेजर्ट की गणना दुनिया के कठिनतम इलाकों में इसकी गणना होती है। इसमें 66 एंटीना लगाए गए हैं जो हर ठंडे पदार्थ, गैस, बादलों का बनना, तारे और ग्रहों के संबंध में जानकारियां जुटाएंगे। एल्मा ने पहली तस्वीर जिन आकाशगंगाओं की खींची है वो पृथ्वी से लगभग 7 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर है। एल्मा चिली के सहयोग से यूरोप, उत्तरी अमेरिका और ईस्ट एशिया का संयुक्त प्रोजेक्ट है। उप प्रमुख वैज्ञानिक एलिसन पेक ने बताया कि एल्मा हमें ग्रहों के निर्माण, एस्ट्रोकैमिस्ट्री के अलावा आकाशगंगाओं से आ रहे प्रकाश से संबंधी राज खोलगा। एल्मा दुनिया का सबसे बड़ा खगोलीय प्रोजेक्ट है।

Related Posts: