जनलोकपाल और अब मजबूत व्हिसल ब्लोअर बिल की मांग को लेकर अन्ना के सहयोगी अरविंद केजरीवाल ने जंतर-मंतर पर कहा कि यदि मजबूत लोकपाल आया तो केंद्र सरकार के 14 मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में एफआईआर दर्ज की जा सकती है और इनके खिलाफ जांच शुरू की जा सकती है. इसलिए सरकार मजबूत लोकपाल बिल के प्रति दिलचस्पी नहीं दिखा रही है.  केजरीवाल ने दावा किया कि केंद्रीय कैबिनेट में इस वक्त 34 मंत्री हैं- इनमें पी चिदंबरम, श्रीप्रकाश जायसवाल, विलासराव देशमुख, सुशील कुमार शिंदे, एस एम कृष्णा, प्रफुल्ल पटेल, कमलनाथ, अजित सिंह, फारुक अब्दुल्ला, कपिल सिब्बल, शरद पवार सहित 14 दागी हैं.

Related Posts: