नयी दिल्ली 07 सितंबर . पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री एस जयपाल रेड्डी ने पेट्रोल.डीजल और रसोई गैस की कीमतों में संसद सत्र के बाद भारी बढोतरी किए जाने की अटकलों पर पूर्णविराम लगाते हुए आज कहा कि फिलहाल इनके दाम बढाने की कोई योजना नहीं है.

श्री रेड्डी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि सरकार की फिलहाल पेट्रोल. डीजल. रसोई गैस और मिट्टी के तेल के दाम बढानेनहीं जा रही है. उन्होंने कहा कि अब कैबिनेट को यह फैसला करना है कि डीजल. रसोई गैस और मिट्टी के तेल पर दी जा रही भारी सब्सिडी को कैसे कम किया जाये1 श्री रेड्डी ने माना कि स्थिति बहुत गंभीर है किंतु सरकार फिलहाल दाम बढाने के पक्ष में नहीं है.

पिछले कयी दिनों से ये अटकलें बहुत जोरों पर थीं कि संसद के मानसून सत्र के समाप्त होने के बाद पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में भारी बढोतरी की जाएगी1 सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों का कहना है कि वर्तमान कीमतों पर पेट्रोल. डीजल समेत अन्य पेट्रोलियम पदार्थों की बिक्री से उन्हें भारी नुकसान उठाना पड रहा है. तेल मंत्रालय सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों को लागत से कम कीमत पर पेट्रोलियम उत्पाद बेचने से हो रहे भारी नुकसान को देखते हुए दाम बढाने की पैरवी कर रहा है तो वित्त मंत्रालय सरकार के बढते वित्तीय घाटे और सबसिडी का बोझ घटाने के लिए ईंधन की कीमतों में वृद्धि का पक्षधर है. अब ऐसा माना जा रहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जो स्वास्थ्य परीक्षण के लिए फिलहाल विदेश में उनके आने के बाद ही डीजल . रसोई गैस और मिट्टी के तेल की कीमतों में किसी प्रकार के संशोधन पर फैसला होगा.

Related Posts: