पवार की राहुल पर टिप्पणी से बिफरे दिग्गी

इंदौर, 29 जनवरी. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के आगामी नतीजों के संबंध में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी को लेकर केंद्रीय कृषि मंत्री शरद पवार के ताजा बयान को वरिष्ठ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने आपत्तिजनक करार दिया. उन्होंने यह भी कहा कि इस चुनाव के नतीजे पवार को चौंका देंगे.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख पवार ने एक टेलीविजन चैनल के साथ साक्षात्कार में कहा था कि अगर उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को हार का स्वाद चखना पड़ता है तो इसके लिये राहुल जिम्मेदार होंगे. इस बयान पर जब यहां संवाददाताओं ने दिग्विजय से प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा, ‘पवार अनुभवी नेता हैं और वह सोझ-समझकर ही कुछ कहते होंगे. लेकिन मुझे उनके इस बयान पर एतराज है. उन्हें इस तरह का बयान नहीं देना चाहिये था.’ उत्तर प्रदेश के कांग्रेस प्रभारी एवं पार्टी महासचिव दिग्विजय ने कहा, ‘जब छह मार्च को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आयेंगे तो उन्हें (पवार को) आश्चर्य होगा.’  यह पूछे जाने पर क्या राहुल पर पवार के बयान को वह निंदनीय भी मानते हैं, दिग्विजय ने सीधा जवाब टालते हुए कहा, ‘मुझे इस मामले में जो कहना था, वह मैं पहले ही कह चुका हूं.’

‘राहुल को बनाओ पीएम, जनता देखेगी क्षमता’

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस की तरफ से देश के भावी प्रधानमंत्री के रूप में देखे जा रहे उसके महासचिव राहुल गांधी की क्षमता पर सवाल उठाते हुए रविवार को कहा कि अच्छा हो कि राहुल गांधी एक बार प्रधानमंत्री बन ही जाएं ताकि देश की जनता देख ले कि उनमें कितनी क्षमता है. पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने संवाददाताओं के एक सवाल के जवाब में कहा, एक बार राहुल गांधी प्रधानमंत्री बन ही जायें. देश की जनता भी देख ले कि उनमें देश की समस्याओं की कितनी समझ और उनके समाधान की कितनी क्षमता है.

उन्होंने कहा, राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनने के लिए केवल इतना ही तो कहना है कि मनमोहन सिंह जी आप कुर्सी से उतरिए हम बैठेंगे. अब भी दो साल का समय बाकी है देश की जनता भी देख ले कि उनमें कितनी क्षमता है. यह सवाल एक न्यूज चैनल को दिये साक्षात्कार में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष एवं केन्द्रीय कृषि मंत्री शरद पवार की इस टिप्पणी के बारे में पूछा गया था जिसमें पवार ने कहा है कि राहुल गांधी को उत्तर प्रदेश में चुनाव अभियान की कमान सौप कर कांग्रेस ने एक जुआ खेला है क्योंकि यदि कांग्रेस अच्छा नहीं कर पाई तो सारी जिम्मेदारी उनके सिर जाएगी. पवार ने यह भी कहा था कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का चुनाव परिणाम अच्छा भी हो तो भी राहुल गांधी को तत्काल प्रधानमंत्री पद के लिए प्रोजेक्ट नहीं किया जा सकता.भाजपा प्रवक्ता ने पवार की टिप्पणी को कांग्रेस नीत संप्रग में उठापटक का संकेत बताते हुए कहा, प्रधानमंत्री सोनिया गांधी और राहुल गांधी कहते है कि सरकार को प्रतिपक्ष का समर्थन नहीं मिलता, मैं पूछना चाहता हूं कि संप्रग के घटक दल एक दूसरे को कितना समर्थन देते है.

Related Posts: