आठ घंटे लगे प्रतिमा को हटाने में

बैरागढ़ 11 जून (संवाददाता) संत हिरदाराम नगर में चंचल चौराहा स्थित संत कंवरराम की प्रतिमा आठ घंटे की मसकद के बाद नगर निगम व बीआरटीएस अधिकारियो की मौजूदगी में शिफ्ट कर दी गयी यह प्रतिमा मंदिर के पास स्थापित की गई है. इसके पूर्व शहिद हेमू कालाणी एवं स्वामी शांतिप्रकाश की प्रतिमा पहले ही शिफट हो चुकी है जबकि सबसे बडी संत कंवरराम की प्रतिमा की अंतिम बांधा भी सोमवार को दूर हो गयी.

इसके पूर्व बैरागढ के सिंधी पंचायत की दो प्रमुख संस्थाएं सिंधी सेंटल पंचायत एवं पूज्य सिंधी पंचायत पदाधिकारियों के अलावा भाजपा एवं नेताओं की उपस्थिति मेें प्रतिमा को समीप ही शिव मंदिर परिसर में शिफट कर दिया गया. इस अवसर पर प्रकाश मीरचंदानी, सुरेश जसवानी, वासुदेव वाधवानी, मौजूद थे. जबकि पूज्य सिंधी पंचायत के साबूमल रीझवानी, कोषाध्यक्ष महेश, नारीमल नरियानी, बीआरटीएस के प्रयोजक प्रभारी प्रमोद मालवीय की उपस्थिति में प्रतिमा को करीब पांच बजे शिफट किया गया. इसकी प्रक्रिया दस बजे से ही शुरु हो गई थी.हालांकि इस प्रतिमा को लेकर बैरागढ के कांग्रेसी नेता नरेश ज्ञानचंदानी ने आंदोलन की चेतावनी दी थी. उनका आंदोलन भाजपा नेताओ के आगे नहीं चल सका. अंत: प्रतिमा को वहां से हटा दिया गया और पूजा अर्चना के बाद संत कंवरराम की प्रतिमा के चरण पानी से धोए गए. करीब पांच बजे प्रतिमा को शिफट कर दिया गया. जहां प्रतिमा को कपडा से ढाका हुआ था. प्रतिमा को हटाने में नगर निगम द्वारा एक पोकलेन मशीन, जे.सी.बी. मशीन एवं एक हाइड्रोलिक मशीन की मदद से हटाया गया. इस अवसर पर बडी संख्या मे ंनगर निगम अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे.

लगेगा रंगीन फव्वारा
बीआरटीएस प्रोजेक्ट के अधिकारी प्रमोद मालवीय ने जानकारी देते हुए बताया कि संत कंवरराम की प्रमिा शिफट कर दी गयी है. उसके साथ रंगीन फव्वारा के साथ आकर्षक बनाया जायेगा. नगर निगम अधिकारियो ने फूल वालो को चेतावनी दी है कि वे मंदिर परिसर में न बैठै वे अपनी दुकान ओर कही लगाये प्रमोद मालवीय ने यह भी बताया कि शिव मंदिर को भी आकर्षक रुप दिया जायेगा जिससे यहां आने वाले दर्शनार्थियों को मंदिर मे एक भव्यता नजर आये. उन्होने एक प्रश्न के उत्तर में पत्रकारो को बताया कि अब बीआरटीएस कारी डोर का काम में तेजी लायेगा. बैरागढ में चल रहे सिक्स लेन का कार्य काफी धीमे चल रहा था अब प्रतिमा शिफट होने के बाद बीआरटीएस कार्य गति पकड लेगा.  फायर बिग्रेड के सामने शहीद हेमू कालाणी की प्रतिमा एवं नगर निगम कार्यालय के सामने स्वामी शांति प्रकाश की प्रतिमा को भी पहले ही बीआरटीएस एवं नगर निगम ने कार्यालयों के समीप शिफट कर दिया गया है.

Related Posts: