मुंबई। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स मंगलवार को 277 अंक की गिरावट के साथ 17,000 अंक के स्तर से नीचे आ गया। आईटी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी टीसीएस के नतीजों और कमजोर वैश्विक रुख से बाजार धारणा प्रभावित हुई।

बंबई शेयर बाजार का तीस शेयरों वाला सेंसेक्स मंगलवार को 276.80 अंक और लुढ़कर 16,748.29 अंक रह गया।  सोमवार को सेंसेक्स 57 अंक नीचे आया था। टीसीएस के दूसरी तिमाही के नतीजे बाजार उम्मीदों से कम रहने से उसका शेयर 7.71 प्रतिशत लुढ़क गया। इसी तरह नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 80.75 अंक की गिरावट के साथ 5,037.50 अंक पर आ गया। भारतीय आईटी कंपनियों को अपनी कुल आमदनी का 85 प्रतिशत अमेरिका और यूरोपीय देशों से हासिल होता है।

दोनों ही क्षेत्र इस समय ऋण और आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में से 25 के शेयर हानि के साथ बंद हुए, जबकि चार में लाभ रहा और एनटीपीसी का शेयर स्थिर रहा। मूडीज द्वारा फ्रांस की साख पर नकारात्मक परिदृश्य की चेतावनी से एशियाई बाजार कमजोर रहे और यूरोपीय बाजारों की भी ढीली शुरुआत हुई। चीन में वृद्धि के उम्मीद से कम आंकड़ों से भी बाजार धारणा प्रभावित हुई। नतीजों का सीजन शुरू होने के बाद से कारोबारी धारणा कमजोर हुई है। इंफोसिस और रिलायंस इंडस्ट्रीज द्वारा नतीजों की घोषणा के बाद यह सिलसिला शुरू हुआ है। आईटी क्षेत्र का सूचकांक सबसे ज्यादा 3.67 प्रतिशत की गिरावट के साथ 5,462.44 अंक पर आ गया। टीसीएस के अलावा इंफोसिस का शेयर 1.61 प्रतिशत नीचे आया, विप्रो में 2.94 प्रतिशत और एचसीएल टेक में 8.58 फीसदी की गिरावट आई।

Related Posts: