भोपाल, 30 मार्च. राजधानी के देवी मंदिरों में जय माता की गूंज सुनाई दे रही है. कल अष्टमी और रविवार को घर-घर मंदिर में रामनवमी पर भंडारे और कन्या भोज होंगे. इसी के साथ विसर्जन का सिलसिला भी शुरू होगा रामनवमी पर मंदिरों में राम भगवान जन्तोत्सव मनाया जायेगा. साई बाबा का पूजन भी होगा.

शीतला माता मंदिर टीला जमालपुरा पर महाष्टमी के अवसर पर भव्य रूप में 501 दीपकों से महाआरती की जायेगी तथा इसके पश्चात प्रसाद वितरण किया जयेगा. समिति अध्यक्ष श्री हरि जोशी द्वारा बताया गया कि इसमें बढ़ी संख्या में माताएं बहने बच्चे एवं समाजसेवी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहेंगे. महाआरती के पश्चात कन्या भोज एवं हवन का भी आयोजन किया गया है.

महाआरती में महिलाएं अपने घर से आरती की थाली सजाकर लगाये एवं शीतला माता भजन मण्डल की तरफ से 501 दीयों की माँ जगत जननी शीतला माता की महाआरती होगी. इसके पश्चात मण्डल की तरफ से उपहार दिया जायेगा. इस महाआरती में नगर निगम अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष अवनीश भार्गव, क्षेत्रीय पार्षद मनोज मालवीय भायुमों के जिलामंत्री वरुण गुप्त, सोनेल साहू, सोनू मेहरा, विवेक गौर एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहेंगे.

माँ दुर्गा धाम अशोक विहार मंदिर परिवार समिति द्वारा जगत जननी माँ दुर्गा की प्राण प्रतिष्ठïा बसंती नवरात्रि के अष्टमी महापर्व के रूप में श्रद्घालु भक्तगण नर नारियों द्वारा उत्साहपूर्वक 31 मार्च को रात्रि 8.30 पर मंदिर में विशाल महा आरती कर सम्पन्न होगा. उक्त जानकारी देते हुए मंदिर के प्रचार सचिव अनिल ठाकुर ने जारी विज्ञप्ति में बताया कि बसंती नवरात्रि के आठवी को मंदिर परिवार समिति द्वारा 501 दीपों के साथ-साथ श्रद्घालु भक्तगणों द्वारा लाए गए दीपों को प्रज्जवलित कर विशाल महाआरती कर सम्पन्न की जाएगी. साथ ही माँ दुर्गा का विशेष फूलों से श्रृंगार आकर्षण विद्युत साज-सज्जा कर उत्साहपूर्वक महाआरती सम्पन्न होगी जिससे भोपाल के गणमान नागरिकों सहित अनेक श्रद्घालु भक्तगण नर नारियां उपस्थित होकर जगत जननी माँ दुर्गा से आशीर्वाद प्राप्त करेंगे.

नगर निगम के अपने बहुआयामी कार्यक्रमों के लिए विख्यात नगर की प्रतिष्ठित संस्था आदिशक्ति साहित्य कला परिषद का 1 अप्रैल को निर्धारित मासिक काव्य गोष्ठी का कार्यक्रम नव दुर्गा महोत्सव के कारण स्थगित किया गया है. अब जयपुर के प्रसिद्घ साहित्यकार अश्वनी कुमार शर्मा के गजल संग्रह तथा गीत संग्रह का लोकार्पण म.प्र. शासन के मंत्रियों के कर कमलों से अप्रैल माह में संपन्न होगा तिथि की घोषणा की शीघ्र की जायेगी. कथा स्थल सब्जी फार्म ई-8 भरत नगर हनुमान मंदिर प्रांगण में परमपूज्य आचार्य पं. पवन भाई महाराज गोपाल निकुंज वृन्दावन द्वारा सप्त दिवसीय श्रीमद भागवत महापुराण कथा के सातवें दिवस चैत्र मास की शुक्ल पक्ष नवरात्रि के पावन पर्व पर महाराज श्री ने श्रीकृष्ण चरित्र की लीलाओं का चित्रण करते हुए कहाकि सुदामा प्रसंग त्याग की भावनाओं से भरा हुआ प्रसंग है.

उसके पश्चात सुदामा जी के सखा स्वरूप का विस्तार से वर्णन किया. इसके पश्चात ज्ञान यज्ञ अनि यज्ञ, भक्ति यज्ञ पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए प्रवचन किये. आज कथा स्थल पर भारी संख्या में भक्तों का जनसैलाब उमड़ पडा. कल अंति दिवस कथा स्थल पर हवन एवं भण्डारे का आयोजन किया गया है. चैत्र नवरात्रि पर्व के अन्तर्गत दुर्गा अष्टमी के सुअवसर पर हमीदिया रोड स्थित मंदिर प्रांगण में दोपहर 12 बजे हवन पूर्ण आहूति का आयोजन किया जायेगा. इस अवसर पर 101 किलो का केक काटा जायेगा और माँ दुर्गा को छप्पन प्रकार के व्यंजनों का भोग अर्पित किया जायेगा तत्पश्चात यहाँ नगर भण्डारा प्रारंभ होगा. जो 2 अप्रैल तक निरंतर जारी रहेगा. उक्त जानकारी मंदिर समिति के अध्यक्ष कैलाश बेगवानी ने दी. उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में गृहमंत्री उमाशंकर गुप्ता, महापौर कृष्णा गौर, विधायक आरिफ अकील, जिला भाजपा अध्यक्ष आलोक शर्मा, पूर्व विधायक पी.सी. शर्मा, कांग्रेस नेता गोविंद गोयल आदि को अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया है.

हनुमान जयंती पर राम शनि की स्थापना

पिपलेश्वर शिव शक्ति मंदिर में हनुमान जयंती के अवसर पर राम दरबार एवं शनि देव की मूर्ति की स्थापना 6 अप्रैल को पूरे विधि विधान से की जायेगी. पिपलेश्वर शिव शक्ति मंदिर आजाद मार्केट के महामंत्री दीपक साहू ने जानकारी देते हुए बताया कि 6 अप्रैल को स्थापना से पहले शनि देव एवं राम दरबार की प्रतिमाओं को शोभायात्रा के माध्यम से नगर भ्रमण कराया जायेगा जोकि मंदिर आजा मार्केट से प्रारंभ होते हुये मंगलवारा घोड़ा निक्कास छोटा भैया कार्नर, जनकपुरी सोमवारा चौक इतवारा होते हुए वापस आजाद मार्केट मंदिर परिसर में शोभायात्रा का समापन होगा.

राम नवमी पर 14 वर्ष बाद शुभ संयोग

चामुंडा दरबार के पुजारी पं. रामजीवन दुबे गुरुजी एवं ज्योतिषी विनोद रावत ने इस बार रामनवमी पूजन का विशेष महत्व बताया है गुरु ने बताया कि 1 अप्रैल को रामनवमी है. 14 मार्च से 13 अप्रैल तक मीन के सूर्य को खरमास कहा जाता है. अर्थात इसमें सभी शुभ कार्य एवं क्रय विक्रय निषेध माना गया है. 14 वर्षो बाद संयोग आया है कि लोग 1 अप्रैल को नवरात्रि सिद्घदात्री पूजा एवं रामनवमी, पुष्प, नक्षत्र, रवि योग एक साथ पड़ रहे है. इसलिए इस दिन सभी शुभ कार्य संपन्न किये जा सकते है. जैसे सगाई, गृृह प्रवेश दाहन, मकान, इलेक्ट्रोनिक सामग्री, स्वर्ण आभूषण क्रय जैसे कार्य हो सकते है. लगनों के बारे में बहाते हुए उन्होंने कहाकि स्थिर लग्र सफलता एवं लाभ देता है.

मनाया जाएगा रामजन्म महोत्सव

रामनवमी के शुभ अवसर अखिल भारतीय रघुवंशी महासभा द्वारा जवाहर चौक स्थित रघुकुल रघुवंशी समाज भवन में रामनवमी महोत्सव उत्साहवपूर्वक मनाया जावेगा. रमनवमी के पूर्व कल प्रात: 9.30 बजे अखण्ड रामायण प्रारंभ होगी तथा 1 अप्रैल को 11 बजे तक अखण्ड रामायण पाठ का समापन होगा तथा हवन एवं रामजन्म का उत्सव 1 अप्रैल को ठीक 12 बजे मनाया जावेगा.

रामरथ यात्रा कल

प्रांतीय अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ हेमन्त सिंह कुशवाह द्वारा बताया गया कि प्रति वर्ष की तरह इस वर्ष भी भगवान श्रीराम की शोभायात्रा निकाली जायेगी. यह यात्रा श्रीराम दल एवं अखिल भारतीय लवकुश महासभा के तत्वावधन में प्रात: 11 बजे 1 अप्रैल रविवार को भानपुर राम मंदिर से हर्षोलास व धूमधाम से निकाली जायेगी. जिसका शुभारंभ महापौर कृष्णा गौर एवं स्थानीय शासन मंत्री बाबूलाल गौर करेंगे. एवं इस राम रथ यात्रा का समापन समापन गुरु बख्श की तलैया सब्जी मंडी राम मंदिर पर सायंकालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह द्वारा आरती के पश्चात समापन किया जायेगा. आगे जानकारी देते हुए बताया गया कि रामरथ यात्रा का विभिन्न समाजों स्थानीय लोगों द्वारा मार्ग में स्वागत किया जायेगा.

अखण्ड रामायण आज से

500 वर्ष पुराने प्राचीन खेड़ापति हनुमान मंदिर वार्ड नं. 62, नरेला शंकरी पर कल शनिवार को प्रात: 9 बजे से अखण्ड माँ ज्योति प्रज्जवलित कर अखण्ड रामायण पाठ का आयोजन किया जा रहा है साथ ही भण्डारा का भी आयोजन किया जा रहा है. पाठ का समापन हवन एवं महा आरती से पश्चात भण्डारा का आयोजन 1 अप्रैल को दोपहर 12 बजे से किया जायेगा.

Related Posts: