नई दिल्ली, 20 मार्च. तृणमूल नेता ममता बनर्जी के पसंदीदा मुकुल राय नए रेल मंत्री बन गए हैं. राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में राय को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई. मुकुल राय ने अंग्रेजी में शपथ ली. इससे पहले राय केंद्रीय मंत्रिमंडल में जहाजरानी राज्य मंत्री थे.

इस मौके पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी, गृह मंत्री पी. चिदंबरम, मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल सहित कई मंत्री सांसद एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे. तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और रेलमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले दिनेश त्रिवेदी उपस्थित नहीं थे. प्रस्तावित रेल यात्री किराया वृद्धि को वापस लेने पर कोई टिप्पणी करने से बचते हुए नए रेल मंत्री मुकुल राय ने कहा कि रेल की सुरक्षा और समय पाबंदी उनकी प्राथमिकता होगी. रेल को हादसों से दूर रखने, रेलयात्रियों की सुरक्षा और रेलों को सही समय पर चलाना उनकी प्राथमिकता होगी. पूर्व रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी द्वारा वर्ष 2012-13 के लिए संसद में पेश रेलबजट पर होने वाली चर्चा का राय ही जवाब देंगे.

बढ़े किराये में आंशिक कमी संभव

हालांकि शपथ ग्रहण समारोह में उपस्थित ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस के नेताओं ने दावा किया कि प्रस्तावित रेल यात्री किराये में वृद्धि में आंशिक वापसी होगी. तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने कहा था कि उन्हें वातानुकूलित श्रेणी का किराया बढऩे पर कोई एतराज नहीं है पर सामान्य व स्लीपर श्रेणी के बढ़ाए गए किराए को वह वापस कराना चाहती है क्योंकि आम आदमी पर बोझ बनेगा.

नहीं बढ़ेगा जनरल का किराया

रॉय संसद में रेल बजट पर चर्चा का जवाब देने के दौरान ही साधारण क्लास की किराया वृद्धि को वापस लेने और स्लीपर क्लास के किरायों में आंशिक कमी का ऐलान कर सकते हैं. एसी के किरायों में भी राहत संभव है. शपथ ग्रहण के बाद रॉय ही सदन में रेल बजट पर चर्चा का जवाब देंगे और संभावना है कि वह त्रिवेदी के किराया बढ़ोतरी के प्रस्तावों पर कैंची चलाएंगे. त्रिवेदी ने साधारण दर्जो में 2 पैसे, स्लीपर क्लास में 5, वातानुकूलित श्रेणियों मे 10 (थर्ड एसी), 15 (सेकेंड एसी) और 30 पैसे (फर्स्ट एसी) प्रति किमी वृद्धि का प्रस्ताव किया था.  ममता की मंशा है कि साधारण दर्जे में वृद्धि पूरी तरह रद्द की जाए, स्लीपर क्लास की वृद्धि घटाकर 2 या 3 पैसे प्रति किमी पर लाई जाए. उनकी नजर में एसी क्लास की किराया वृद्धि भी ज्यादा है, लिहाजा थर्ड एसी में बढ़ोतरी को 5 पैसे, सेकेंड एसी में 10 और फ?र्स्ट एसी में 15 पैसे करना उचित होगा.

Related Posts: